औरंगाबाद में खाद के लिए किसान परेशान, अधिकारियों पर लगाया धक्का-मुक्की का आरोप

औरंगाबाद में खाद के लिए किसान परेशान, अधिकारियों पर लगाया धक्का-मुक्की का आरोप

AURANGABAD : औरंगाबाद के बारुण में आज भी अंग्रेजी हुकूमत की झलक देखने को मिल रही है . बताया जा रहा है की यहाँ के अधिकारियों ने किसानों के साथ धक्का-मुक्की किया है. 

बताया जा रहा है की औरंगाबाद के बारुण में उर्वरक विक्रेताओं द्वारा कालाबाजारी के नियत से सभी दुकानों का शटर बन्द कर दिया गया है. इसकी सुधि अधिकारियों के द्वारा आज तक नही लिया गया. वही किसानो का आरोप है कि प्रखंडस्तरीय पदाधिकारियों को किसान की चिन्ता नहीं, बल्कि सभी अवैध तरीके से सोन नदी से निकल रहे बालू के गाड़ियों से पैसे उगाही में जुटे हुए है. 

किसानों ने यह भी बताया कि बारुण बिस्कोमान में खाद का भंडारण है. लेकिन बारुण बिस्कोमान के मैनेजर सुधीर कुमार के द्वारा बिचौलिए के माध्यम से यूरिया खाद की बिक्री किया जा रहा है. जिसको लेकर सभी किसानों ने विरोध जताया तो बारुण बिस्कोमान के मैनेजर और बारुण बीडीओ के द्वारा किसानों को धक्का मुक्की कर सेंटर से भगा दिया गया. 

जब इस बिंदु पर बीडीओ से पूछा गया तो उन्होंने बताया की किसानों के द्वारा यह आरोप लगाया था कि सेंटर 2 बजे बन्द कर दिया जाता है., जिसको लेकर किसानों की समस्या को देखते हुए उसे हमने 6 बजे तक खुला रखने का निर्देश दिया है. हालाँकि उन्होंने यह भी बताया कि हम ऊँची आवाज में जरूर बोले है, ताकि भीड़ में लोग बात को सुन सके. 

औरंगाबाद से दीनानाथ मौआर की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News