लगता है 2014 की हार भूल गए हैं ललन सिंह, 2024 में फिर होगी करारी हार, जायसवाल ने नीतीश के जनता दरबार फिर कहा ‘नौटंकी’

लगता है 2014 की हार भूल गए हैं ललन सिंह, 2024 में फिर होगी करारी हार, जायसवाल ने नीतीश के जनता दरबार फिर कहा ‘नौटंकी’

पटना. भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जयसवाल ने रविवार को कहा कि देश के गृहमंत्री अमित शाह का सीमांचल दौरा ऐतिहासिक रहा है. शाह के दौरे को लेकर जदयू नेताओं की ओर से किए जा रहे कटाक्ष पर जायसवाल ने जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह को राजनीतिक चैलेंज देते हुए कहा कि वह अगला लोकसभा चुनाव लड़कर दिखा दें. उन्हें फिर से उसी तरह की हार झेलनी होगी जैसे हार 2014 के लोकसभा चुनाव में मुंगेर में ललन सिंह की हुई थी. उन्होंने कहा कि पिछली बार 2019 के लोकसभा चुनाव ललन सिंह इसलिए 1 लाख से ज्यादा वोट से जीत हासिल किए थे क्योंकि तब पीएम मोदी के चेहरे की वजह से ही यह मुमकिन हो सका था .

संजय जयसवाल ने कहा कि सीमांचल में जिस तरह लोगों ने अमित शाह को सुनने के लिए उत्साह दिखाया उसके बाद यह दावा किया जा सकता है कि अब हम लोग 2024 के लोकसभा चुनाव में 40 की 40 सीटें जीत लेंगे. साथ ही साथ संजय जयसवाल ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार को सुनियोजित दरबार बताते हुए कहा कि जो लोग वहां अपनी फरियाद लेकर आते हैं उससे पहले ही विषय वस्तु के बारे में पूछ लिया जाता है. जनता दरबार में मुख्यमंत्री अफसर के सामने नौटंकी करते हैं.

जयसवाल ने कहा कि जेडीयू की तरफ से अमित शाह को चैलेंज किया गया है कि वह रात में आकर बिहार घूमे इसलिए कि यहां नीतीश राज है और किसी को डर नहीं लगता. जयसवाल ने सवाल पर पलटवार करते हुए कहा कि हम आएंगे और देश के गृह मंत्री अमित शाह नालंदा के दौरे पर होंगे. साथ ही साथ इस बार नालंदा की लोकसभा सीट भी जीत कर दिखा देंगे. 

जयसवाल ने कहा नीतीश को दिल्ली में कोई नहीं पहचानता है. इसलिए लालू और तेजस्वी के सहारे वह हरियाणा के फरीदाबाद में चौटाला की रैली में शामिल होने पहुंचे हैं. हमारा संकल्प आज भी बरकरार है. नीतीश सोनिया से मिले या किसी और से 2024 में मोदी की फिर से वापसी होगी.


Find Us on Facebook

Trending News