लालू के फैसले पर जदयू का हमला, कहा- तेजस्वी भविष्यवक्ता बने हुए थे, फेल हो गई उनकी भविष्यवाणी

लालू के फैसले पर जदयू का हमला, कहा- तेजस्वी भविष्यवक्ता बने हुए थे, फेल हो गई उनकी भविष्यवाणी

पटना... लालू प्रसाद यादव कुछ दिन और जेल में रहेंगे, जमानत पर 27 नवंबर तक सुनवाई टली। सीबीआई ने कोर्ट से 27 नंवबर तक समय मांगा जिसे झारखंड हाईकोर्ट ने स्वीकार कर लिया है। इस पूरे मामले को लेकर जदयू ने तेजस्वी के उस भविष्यवाणी पर पलटवार किया है, जिसमें तेजस्वी अपने पिता की रिहाई पर ये कह रहे थे कि 9 नवंबर को लालू जी की रिहाई है और 10 नवंबर को नीतीश कुमार की विदाई है। 

चुनाव प्रचार के दौरान राजद नेता तेजस्वी यादव हर मंच पर ये कहते सुनाई दे रहे थे कि 9 नवंबर को लालू जी की रिहाई है और 10 नंवबर को नीतीश कुमार को विदाई है। तेजस्वी अपने पिता की रिहाई को लेकर लगातार बोल रहे थे। 

अब जदयू के प्रवक्ता अजय आलोक ने तेजस्वी पर पलटवार करते कहा कि पता नहीं तेजस्वी किस आधार पर अपने पिता लालू के रिहाई की बात की भविष्यवाणी कर रहे थे। सारी भविष्यवाणी उनकी धरी की धरी रह गई। अजय आलोक ने कहा कि लालू जैसे भ्रष्टाचारियों की जगह जेल है और आगे भी वहीं रहेंगे। 

जदयू प्रवक्ता ने कहा कि हम पहले से ही बता रहे हैं कि जंगलराज के युवराज ने जिस प्रकार से सभाओं में लोगों को सब्जबाग दिखाया है, उसके झूठ की पहली सीढी का नमूना देखने को मिल गया है। अंतिम चरण के चुनाव से पहले मैं मतदाताओं से कह रहा हूं कि वो सोच समझ कर मतदान करें। 



Find Us on Facebook

Trending News