सियासी दांव पेंच के माहिर लालू यादव ने खेल दिया बड़ा खेला, तेजस्वी-तेजप्रताप को सेफ करने के लिए चल दी बड़ी चाल

पटना : विधानसभा के चुनावी मैदान में उतरने से पहले बिहार की सियासत में लगातार तेजी से बदलाव हो रहा है. राजद में टूट के बाद कांग्रेस के दरकने की खबरों के बीच रांची से ही लालू अपने दुश्मनों को सेट करने में लगे हैं. राजद चीफ लालू यादव ने तेजस्वी को घिरता देख नया दांव खेला है.लालू यादव ने तेजस्वी के तरकस में एक ऐसा तीर डाला है जो चुनाव के वक्त काम आएगा. 

लालू ने निकाल लिया ऐश्वर्या का तोड़
राजनीति के रग रग को समझने वाले लालू यादव जानते हैं कि चुनाव के वक्त ऐश्वर्या और तेजप्रताप का मुद्दा उठाकर विपक्ष सेंटिमेंटल वोट ले सकता है. राजनीति के हर चाल को दूर से समझने वाले लालू यादव को यह इस बात की भनक थी कि चुनाव में तेजस्वी या तेजप्रताप के खिलाफ ऐश्वर्या को मोहरा बनाया जा सकता था इसलिए लालू यादव ने चंद्रिका राय की भतीजी और ऐश्वर्या की बड़ी बहन करिश्मा को राजद में शामिल करवा दिया.

करिश्मा की एंट्री से तेजप्रताप खफा
राजद में चंद्रिका राय की भतीजी करिश्मा की एंट्री से तेजप्रताप यादव काफी खफा हैं.तेजप्रताप यादव ने कहा कि इस फैसले से पहले मुझसे राय नहीं ली गई. तेजप्रताप यादव का कहना है कि जिस परिवार ने मेरी जिंदगी खराब की  उस परिवार से जुड़े किसी को हम स्वीकार नहीं कर सकते. हालांकि बाद में तेजप्रताप यादव मान गए. अंदरखाने से खबर है कि तेजप्रताप यादव को चुनावी समीकरण समझाया गया तब जाकर तेजप्रताप यादव शांत हुए.

पार्टी की हर जिम्मेदारी निभाऊंगी
राजद ज्वाइन करने के बाद करिश्मा ने भी ऐलान कर दिया है कि पार्टी उन्हें जो जिम्मेदारी देगी, उससे पीछे नहीं हटेंगी.  करिश्मा जानती हैं कि आने वाले चुनावी वक्त में उन्हें क्या करना है और राजद में उनकी एंट्री क्यों करवाई गई है. अब देखना है कि लालू के इस वार के बाद विपक्ष क्या नया दांव खेलता है.




Find Us on Facebook

Trending News