LJP का 'नीतीश' पर बड़ा अटैक,कहा- खत्म होने के कगार पर है JDU...नेतृत्व का भी संकट,नेता-विधायकों का सुरक्षित नहीं भविष्य

LJP का 'नीतीश' पर बड़ा अटैक,कहा- खत्म होने के कगार पर है JDU...नेतृत्व का भी संकट,नेता-विधायकों का सुरक्षित नहीं भविष्य

PATNA: अरुणाचल प्रदेश में जनता दल यूनाइटेड के सात में से छह विधायकों के बीजेपी में शामिल होने से पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को बड़ा झटका लगा है.बीजेपी द्वारा इस तरह के झटका देने के बाद नेतृत्व सकते में है। भले ही सीएम नीतीश कुमार उपरी तौर इसे मामूली घटना करार दे रहे हों और राष्ट्रीय परिषद की मीटिंग में चर्चा की बात कहे हों लेकिन वैसी बात है नहीं। जानकार बताते हैं कि भाजपा के इस कदम से जेडीयू अंदर ही अंदर बौखलाई हुई है। 

अरूणाचल प्रदेश में जेडीयू के 6 विधायकों के पाला बदलकर भाजपा में शामिल होने के बाद विरोधियों को बोलने का मौका मिल गया है। मुख्य विपक्षी राजद ने भी नीतीश कुमार पर सीधा हमला बोला है। वहीं, लोजपा ने भी नीतीश कुमार के नेतृत्व पर सवाल खड़े किये हैं। लोजपा नेता और विधानसभा चुनाव में पार्टी के उम्मीदवार रहे रामेश्वर चौरसिया ने जेडीयू पर बड़ा अटैक किया है। उन्होंने कहा कि बिहार चुनाव में जनता ने नीतीश कुमार की पार्टी को तीसरे दर्जे की पार्टी बना दी। जेडीयू में नेतृत्व का संकट खड़ा हो गया है,नेता या विधायक अपने आप को उस दल में सुरक्षित नहीं मान रहे। 

बिहार में भी अरूणाचल प्रदेश की घटना दुहराई जा सकती है

उन्होंने कहा कि अरूणाचल प्रदेश की घटना कोई आश्चर्यजनक घटना नहीं है। इस तरह की घटना बिहार में बी दोहराई जा सकती है।आज की तारीख में जेडीयू में नेता अपना भविष्य सुरक्षित नहीं देख रहे। इसलिए जिन्हें जहां भविष्य उज्जवल नजर आ रहा वहां जा रहे। वर्मान में बीजेपी सबसे सुरक्षित है,बीजेपी में ऊपर से लेकर नीचे तक नेतृत्व भरा है। इसलिए लोग भाजपा का दामन थाम रहे। रामेश्वर चौरसिया ने आगे कहा कि नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू की हालत आंध्रप्रदेश के चंद्राबाबू नायडु की तरह हो गई है।  


Find Us on Facebook

Trending News