लोजपा (रामविलास) के तीन दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का राजगीर में शुभारंभ, चिराग बोले- विपक्षी एकता भानुमती के कुनबे के समान

लोजपा (रामविलास) के तीन दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का राजगीर में शुभारंभ, चिराग बोले- विपक्षी एकता भानुमती के कुनबे के समान

पटना. लोजपा (रामविलास) का तीन दिवसीय प्रशिक्षण शिविर पद्मभूषण रामविलास पासवान नगर कन्वेंशन हॉल राजगीर में आरंभ हुआ। प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन लोजपा रामविलास के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने दीप प्रज्जवलित कर किया। इस मौके पर चिराग ने कहा कि विपक्षी एकता भानुमति के कुनबे के समान है, जहां जब-जब विपक्षी पार्टियां एक मंच पर एकजुट होते हैं तो वहां प्रधानमंत्री बनने की होड़ लग जाती है। लगभग एक दर्जन से अधिक प्रधानमंत्री पद के दावेदार हो जाते हैं। इसलिए विपक्षी दलों को एकजुट करना संभव नहीं है।

चिराग ने कहा कि उनके अंदर केंद्रीय मंत्री बनने की कोई चाहत नहीं है और वे अगर 2020 के चुनाव में नीतीश कुमार के सामने नतमस्तक हो जाते तो वे खुद आज केंद्र में स्वयं मंत्री होते एवं उनके कई विधायक आज प्रदेश के मंत्रिमंडल में शामिल होते। लेकिन उनका मानना है कि जो दल उनके बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट के झंडे को अपनाएगा उसे ही वे समर्थन देंगे और उनके साथ चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने दल के कार्यकर्ताओं को ज्यादा से ज्यादा सोशल मीडिया पर सक्रिय होकर पार्टी की बात और जनता की समस्या को साझा करने की भी बात कही।

चिराग पासवान ने कहा कि उनका दल बिहार के लोगों की समस्या को लेकर सदैव सड़क से लेकर सदन तक लड़ाई लड़ेगा। उन्होंने कहा कि सात निश्चय योजना बिहार में सफल नहीं होगी और कुछ दिनों बाद यह भ्रष्टाचार की गंगा बनकर निकलेगी और कई जगहों पर इसमें भ्रष्टाचार की बात उजागर होने लगी है। प्रदेश में जिस तरह के हालात बन रहे हैं, उसमें मध्यावधि चुनाव होना तय है। मौजूदा प्रदेश की सरकार में अपराध और अपराधियों का तेजी से मनोबल बढ़ा है। बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट विजन प्रदेश के सामावेशी विकास का मॉडल है, जिसे इस प्रशिक्षण शिविर के तहत सभी प्रशिक्षण शिविर में शामिल हुए पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं के बीच विस्तार से रखी जायेगी। जिसे पार्टी के सभी नेता और कार्यकर्ता प्रदेश के कोने कोने में बसे गांव-गांव और जनजन तक पहुंचाएंगे। चिराग ने कहा पार्टी आगामी चुनाव को लेकर अपनी तैयारी और रणनीति तय करेगी। आगामी विधानसभा चुनाव में बिहार में लोक जनशक्ति पार्टी रामविलास की सरकार बननी तय है। बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट विजन के तहत प्रदेश का सामेकित विकास किया जाएगा।

पार्टी के मुख्य प्रदेश प्रवक्ता राजेश भट्ट ने बताया कि प्रशिक्षण शिविर में मंचस्थ पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग के अलावे सभी वरिष्ठ एवं राष्ट्रीय नेताओं द्वारा पार्टी के संस्थापक पद्मभूषण स्वर्गीय रामविलास पासवान के तैल्यचित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। उसके पश्चात पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान जी का भव्य स्वागत पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राजू तिवारी एवं पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों द्वारा उन्हें मखाने की माला और शॉल भेंट कर की गई। कार्यक्रम की शुरूआत चिराग ने सभागार में उपस्थिति पार्टी के सभी वरिष्ठ नेताओं और प्रशिक्षु प्रदेश, जिला और प्रखण्ड स्तरीय पदाधिकारियों को पार्टी की शपथ दिलाई।

प्रशिक्षण के पहले सत्र में देश की शिक्षा नीति पर पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व सांसद डॉ. अरुण कुमार तथा विदेश नीति विषय पर विदेश नीति विशेषज्ञ आशुतोष पाठक ने विस्तार से व्याख्यान दिया। आशुतोष पाठक ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि देश के बौद्धिक समाज में किसी एक नेता की अगर चर्चा हो रही है तो वो सिर्फ चिराग की चर्चा हो रही है। पार्टी के बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट विजन पूरे देशवासियों को आज आन्दोलित कर रहा है। उन्होंने दिवंगत नेता और पार्टी के संस्थापक पद्मभूषण रामविलास पासवान की संचार नीति की दूरदर्शिता का सराहना करते हुए कहा कि जब स्व0 पासवान जी संचार मंत्री थे तो उन्होंने गरीबों और मजदूरों के हाथ में मोबाइल फोन देने का जो सपना देखा था वह आज पूर्ण रूप से साकार हो गया है। आज चिराग के विजन की चर्चा देश से बाहर यूरोपियन देशों में भी की जाने लगी है। अर्थ नीति पर अर्थशास्त्री डॉ एन.के. चौधरी, कृषि नीति पर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सह पूर्व मंत्री रेणु कुशवाहा, स्वदेशी स्वावलंबन रोजगार विषय पर राष्ट्रीय महासचिव डॉ. अच्युतानंद सिंह, भारतीय राजनीति में अल्पसंख्यक विषय पर राष्ट्रीय महसचिव डॉ. शाहनवाज कैफ़ी और संगठन पर राष्ट्रीय महसचिव पूर्व विधायक सतीश कुमार ने व्याख्यान दिया।

भट्ट ने बताया कि मंच पर प्रदेश अध्यक्ष राजू तिवारी, प्रदेश प्रधान महासचिव संजय पासवान, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. अरूण कुमार, रेणु कुशवाहा, वरिष्ठ नेता डॉ. सत्यानंद शर्मा, राष्ट्रीय महासचिव डॉ. शाहनवाज अहमद कैफी, अच्युतानंद सिंह, धनंजय मृणाल पासवान, शंकर झा, पूर्व विधायक सतीश कुमार, राष्ट्रीय प्रवक्ता धीरेन्द्र कुमार मुन्ना, राष्ट्रीय सचिव अरविन्द सिंह, मिथलेश सिंह, कृष्णा सिंह, युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रणव कुमार, छात्र राष्ट्रीय अध्यक्ष यामिनी मिश्रा, अल्पसंख्यक राष्ट्रीय अध्यक्ष कुंवर आसीम खान, युवा राष्ट्रीय महासचिव अनिल कुमार पासवान, बिहार संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष हुलास पाण्डेय, संगठन मंत्री ई. रविन्द्र सिंह, सदस्यता प्रभारी संजय रविदास महिला राष्ट्रीय उपाध्यक्ष इन्दु कश्यप, प्रो. एन.के. चौधरी और आशुतोष पाठक मौजूद थे।

Find Us on Facebook

Trending News