नीतीश कैबिनेट की बैठक में मदन सहनी नहीं होंगे शामिल, अफसरों की मनमानी से त्रस्त 'मंत्री' ने इस्तीफे का किया है ऐलान

नीतीश कैबिनेट की बैठक में मदन सहनी नहीं होंगे शामिल, अफसरों की मनमानी से त्रस्त 'मंत्री' ने इस्तीफे का किया है ऐलान

PATNA: नीतीश कैबिनेट के मंत्री मदन सहनी जिन्होंने अफसरशाही के खिलाफ इस्तीफे का ऐलान किया है वे आज मंत्रिमंडल की बैठक में शामिल नहीं होंगे। उन्होंने साफ कर दिया है कि वे आज की कैबिनेट मीटिंग में शामिल नहीं हो सकते। मदन सहनी अपने गृह जिले दरभंगा में हैं।

कैबिनेट बैठक में मदन सहनी नहीं होंगे शामिल

समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी अपने विभाग में अफसरों की मनमानी के खिलाफ बगावत का झंड़ा बुलंद करने और इस्तीफे की घोषणा के बाद कल शाम ही पटना से अपने क्षेत्र के लिए निकल गये थे। आज वे जेडीयू विधायक शशिभूषण हजारी के अंतिम संस्कार में शामिल हुए। उन्होंने कहा है कि आज की कैबिनेट बैठक में वे शामिल नहीं होंगे क्यों कि वे क्षेत्र में आये हुए हैं। 

ये भी पढ़ें--अफसरशाही से 'कराह' रहा बिहार! कटघरे में CM नीतीश का विभाग, 8 सालों से एक ही जगह पर जमे परिवहन OSD पर सुशासन मेहरबान

CM नीतीश ने बुलाई है कैबिनेट मीटिंग

बता दें, आज शाम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कैबिनेट की बैठक बुलाई है। मंत्रिपरिषद की बैठक में सभी मंत्रियों को वर्चुअल माध्यम से बैठक में जुड़ना है।गुरूवार को मंत्री मदन सहनी के सुशासन की सरकार पर सवाल उठाने,अफसरशाही और सीएम नीतीश के प्रधान सचिव के खिलाफ मोर्चा खोलने के बाद सीएम नीतीश बैकफउट पर हैं। इसी बीच आज कैबिनेट की बैठक बुलाई गई है। आज की मंत्रिपरिषद की बैठक पर सबकी नजर है।

अधिकारियों की ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर आहत

मदन साहनी ने गुरूवार को कहा कि घर और गाड़ी लेकर क्या करूंगा जब जनता की सेवा ही नहीं कर पा रहा हूं। जब अधिकारी मेरी सुनेंगे ही नहीं तो जनता की सेवा कैसे करूंगा। अगर जनता का काम नहीं कर सकता तो मंत्री बने रहने का कोई मतलब नहीं है। मदन सहनी ने कहा कि कैबिनेट का निर्णय है कि 30 जून तक ट्रांसफर होना है, लेकिन तीन दिनों तक अधिकारी फाइल दबाए रहे। मीडिया से बातचीत में कहा कि हम लोग बरसों से तानाशाही झेल रहे हैं, यातना झेल रहे हैं लेकिन अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है। सहनी ने कहा कि इसलिए अब हमने मन बना लिया है कि हम अब इस्तीफा दे देंगे। उन्होंने आगे कहा कि जब हम किसी का भला नहीं कर सकते है तो हम केवल सुविधा लेने के लिए नहीं बैठे हैं। पार्टी से इस्तीफा देने के सवाल पर सहनी ने कहा कि पार्टी में बने रहेंगे .

 

Find Us on Facebook

Trending News