महागठबंधन के धरना पर सुशील मोदी का तंज, कहा- 15 साल के जंगलराज में कुल 9 चुनावों में 641 हत्याएं हुईं, तब उन्हें गांधी याद नहीं आए

महागठबंधन के धरना पर सुशील मोदी का तंज, कहा- 15 साल के जंगलराज में कुल 9 चुनावों में 641 हत्याएं हुईं, तब उन्हें गांधी याद नहीं आए

पटना... किसान आंदोलन को लेकर महागठबंधन आज गांधी मैदान में धरना देगी। शुक्रवार को चर्चा के दौरान तेजस्वी यादव ने धरने की जानकारी दी, जिसके बाद से सियासत भी तेज हो गई है। इस बीच भाजपा के नेता सुशील मोदी ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर सोशल मीडिया के जरिए तीखी प्रतिक्रिया दी है। भाजपा नेता ने इसको लेकर ट्वीट किया और लिखा,  राजद के 15 साल के राज में दलितों के सामूहिक संहार, फिरौती के लिए 17000 लोगों का अपहरण और पंचायत से संसद तक के लिए हुए कुल नौ चुनावों में 641 हत्याएं हुईं, लेकिन तब उन्हें गांधीजी के सिद्धांत की याद नहीं आई। लालू- राबड़ी राज में गांधी ही नहीं, जेपी, लोहिया, कर्पूरी ठाकुर तक अनेक महापुरुषों के आदर्शों को रौंद कर सम्पत्ति बनाई गई और वंशवादी राजनीति को मजबूत किया गया। 

उन्होंने आगे लिखा, आज जिनके मन में गांधी जी की प्रतिमा के सामने धरना देने का विचार आ रहा है, वे सत्ता में रहते हुए गांधी को बहुत पहले भूल चुके हैं। गांधीवाद से उन्हें यदि सचमुच कोई लगाव होता तो माओ-लेनिन के हिंसक सिद्धातों में भरोसा रखने वाले वामदलों से गठबंधन नहीं करते।

बता दें कि बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने नए कृषि कानूनों को किसान विरोधी बताते हुए बिहार के किसानों को भी आंदोलन में शामिल होने की अपील की है। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव व उनकी पार्टी के नेता व समर्थकों एवं महागठबंधन में शामिल कांग्रेस व वाम दल पटना के गांधी मैदान में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने इस कानून के विरोध में धरने पर बैठेंगे। राजद नेता ने कहा था कि गांधी मूर्ति के पास इसलिए धरना देगी क्योंकि ये गांधी जी के विचारों से जुड़ा मसला है। अब तेजस्वी यादव के इसी वक्तव्य के आधार पर बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम व भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने निशाना साधा है।


Find Us on Facebook

Trending News