बक्सर में आस्था के साथ मना महापर्व छठ पूजा, उगते सूर्य को अर्घ्य देकर व्रतियों ने खत्म किया उपवास

बक्सर में आस्था के साथ मना महापर्व छठ पूजा, उगते सूर्य को अर्घ्य देकर व्रतियों ने खत्म किया उपवास

BUXER :- लोक आस्था का महापर्व छठ पूजा को लेकर चारों तरफ रौनक देखी जा रही है। बक्सर के विभिन्न छठ घाटों पर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी है। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में भी अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य देने का छठ व्रती महिलाएं पानी में खड़ी होकर भगवान भास्कर के ध्यान में जुटी है। आज डूबते सूर्य को अर्ध्य देने के लिए शहर, गांव और कस्बों में लोग बक्सर पहुंच कर छठ पर्व कर रहे हैं। इन इलाकों के तालाब, पौखर, नदीं पर मेले सा दृश्य देखने को मिल रहा है। वहीं जिला प्रशासन की ओर से छठ घाटों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। भगवान भास्कर को अर्घ्य अर्पित करने के बाद अब छठ व्रती अपने घर लौटने लगे हैं।

 बक्सर के ऐतिहासिक रामरेखा घाट,सुमेश्वर स्थान , बक्सर सेंट्रल जेल घाट , लक्ष्मी नारायण घाट , फुआ घाट , नाथ बाबा घाट , सती घाट , जहाज घाट , गोला घाट , सिद्धनाथ घाट , बंगला घाट , डुमराँव महाराज घाट , नहर घाट , गंगा ब्रिज घाट , हुनमान मन्दिर घाट , सरिमपुर घाट, मल्लाह घाट, माता अहिल्या घाट , समेत करीब 70 गंगा घाट पर बक्सर शहर के 4 किमी तक गंगा नदी के किनारे बड़ी संख्या में घाट पर छठवृत्ति मौजूद हैं। डूबते सूर्य को अर्ध्य देने का लोगों की भीड़ को देखते बन रही थी। घाटों के किनारे लाइट लगाए गए हैं। समीति के वोलेंटियर भी लोगों की काफी मदद कर रहे हैं। घाट पर पहुंचे छठ व्रती लगभग अपनी तैयारी पूरी कर चूके हैं।

चार दिवसीय छठ पूजा के चौथे और अंतिम दिन उदयीमान सूर्य को अर्घ्य देने के लिए छठ व्रती गंगा घाटों पर मौजूद रहे, उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देकर लोक आस्था का महापर्व आज चौथे दिन संपन्न किए। जिसे देखते हुए शहर के सभी चौक चौराहों से लेकर गंगा घाटों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम प्रशासन द्वारा किया गया था। उत्तरायणी गंगा की तट पर छठ व्रत करने के लिए बिहार ही नहीं बल्कि उत्तरप्रदेश , मध्यप्रदेश, झारखंड, उड़ीसा के अलावे नेपाल तथा अन्य प्रदेशों से सैकडों छठव्रती शहर के रामरेखा घाट और नाथ बाबा घाट पर छठ व्रत किए। जो उदयीमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ इस व्रत को सम्पन्न किए।  बताते चलें कि बक्सर के गंगा घाटों पर इस वर्ष काफी संख्या में छात्रवृत्ति पहुंचे थे। जहां लगभग 4 किलोमीटर तक गंगा किनारे छठ पर्व को हर्षोल्लास के साथ मनाया।

Find Us on Facebook

Trending News