विज्ञान एवं प्रद्योगिकी मंत्री सुमित सिंह ने शहीद धीरज कुमार को दी श्रद्धांजलि, कहा जमुई को अपूरणीय क्षति हुई है

विज्ञान एवं प्रद्योगिकी मंत्री सुमित सिंह ने शहीद धीरज कुमार को दी श्रद्धांजलि, कहा जमुई को अपूरणीय क्षति हुई है

JAMUI : बिहार सरकार के विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी मंत्री सुमित कुमार सिंह ने सीआईएसएफ जवान धीरज कुमार का निधन हो जाने पर गहरा दुःख व्यक्त किया है. उन्होंने कहा की मेरे गांव पकरी ने अपना एक लाल खो दिया. शहीद सपूत धीरज का निधन मेरे गांव, खैरा और जमुई की अपूरणीय क्षति है. एक संभावनाशील उज्ज्वल भविष्य का एक असमय अंत अत्यंत पीड़ादायक है. हमारे गांव के युवा काफी दुःखी हैं, सब को धीरज भाई से बड़ी उम्मीदें थी. वह अपनी माटी को अपनी शहादत से गौरवान्वित तो कर गए, लेकिन उन्हें अभी बहुत कुछ करना था. 

उन्होंने कहा की पकरी (उपरैली पकरी) निवासी रविंद्र साव के पुत्र धीरज कुमार केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के ऊर्जावान जवान थे. उनका प्रशिक्षण राजस्थान के देवलाली ट्रेनिंग सेंटर में हो रहा था. प्रशिक्षण के दौरान ही उनका देहांत हो गया. आज उनके घर जाकर उनके शोकाकुल परिजनों से मिला. लेकिन अपने जवान सुपुत्र को असमय खो देने वाले मर्माहत माता-पिता, बहन को ढांढस बंधाने को मेरे पास शब्द नहीं थे. ऐसे मौकों पर मैं खुद भावविह्वल हो जाता हूं. अपनी भावनाओं पर काबू नहीं रख पाता. वैसे पर्वत जैसी पीड़ा से जूझ रहे परिजनों को कोई कैसे दो शब्द कह भरोसा दे सकता है. अपने दिल के टुकड़े को खो देने वालों का असहनीय दर्द कोई भी संवेदनशील मनुष्य महसूस कर सकता है. इस पीड़ा पर वक्त ही मरहम लगा सकता है, ईश्वर भी शायद इसे दूर नहीं कर सकते. 

इस अवसर पर खैरा के खैरा के प्रखंड विकास पदाधिकारी अवतुल्य कुमार आर्य, नकुल साव, राजेन्द्र साव, बैजनाथ साव, संजय साव, अजीत साव सहित बहुत सारे ग्रामीणजन उपस्थित थे. 

Find Us on Facebook

Trending News