नालंदा में दहेज में भैंस नहीं मिलने पर विवाहिता को दिया जहर, मौत के बाद ससुराल वाले फरार

नालंदा में दहेज में भैंस नहीं मिलने पर विवाहिता को दिया जहर, मौत के बाद ससुराल वाले फरार

नालंदा. जिले के थरथरी थाना इलाके के शेखपुराडीह गांव में दहेज में भैंस नहीं देने पर ससुराल वालों ने विवाहिता के खाने में जहर दे दिया, जिससे उसकी मौत हो गयी। मौत के बाद ससुराल वालों ने उसके शव को घर के बाहर सड़क किनारे फेंक कर फरार हो गया। मृतका देवा यादव की 25 वर्षीया पत्नी आरती देवी बतायी जा रही है।

छबीलापुर थाना क्षेत्र के छबीलापुर गांव निवासी आरती के पिता राकेश कुमार ने बताया कि उनकी पुत्री की शादी साल 2017 में कृष्ण यादव के पुत्र देवा यादव से हुई थी। इस बीच दोनो से 4 साल का बेटा और 2 साल की बेटी भी हुई। उनका दामाद दूसरे प्रदेश में रहकर मजदूरी करता है। ससुराल में सास, ससुर, भैसुर और गोतनी से शादी के बाद से ही छोटी-छोटी बातों को लेकर झगड़ा करते रहता था। बार-बार मायके से भैंस मांगने का दबाब बना रहे थे। इसके लिए अक्सर उसे प्रताड़ित किया जाता था।

वहीं परिजनों ने पुलिस पर भी सहयोग नहीं करने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि  पुलिस को हत्या की सूचना देने के बाद भी घटनास्थल पर पहुंचने में 2 घंटे लग गये, जबकि थाने से गांव की दूरी महज 6 किलोमीटर ही है। जब पुलिस आई तो उन लोगों ने मृतका के सास को गिरफ्तार करने की बात कही, तो पुलिस ने लेडीज कॉन्स्टेबल के नहीं रहने का हवाला दे गिरफ्तार करने से मना कर दिया। 

वहीं मामले को लेकर थरथरी थानाध्यक्ष राकेश कुमार ने बताया कि प्रथम दृष्टया जांच में यह बात सामने आई है कि बीमारी से मौत हुई। परिजनों के द्वारा जो भी आवेदन प्राप्त होगा, जांच उपरांत कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल ससुराली परिवार घर छोड़कर फरार है। शव का पोस्टमार्टम करा कर मायके वालों को सौंप दी गयी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का खुलासा हो सकेगा।

Find Us on Facebook

Trending News