सुशासन के सफेदपोशों से गहरा रिश्ता रहा है कुख्यात मस्तु वर्मा का, बहुचर्चित गुंजन खेमका हत्याकांड में जेल में बंद है मस्तु

सुशासन के सफेदपोशों से गहरा रिश्ता रहा है कुख्यात मस्तु वर्मा का, बहुचर्चित गुंजन खेमका हत्याकांड में जेल में बंद है मस्तु

पटना- राजधानी के प्रतिष्ठित मगध अस्पताल के मालिक और व्यवसायी गोपाल खेमका के बेटे व बिहार भाजपा उद्योग प्रकोष्ठ के अध्यक्ष युवा व्यवसायी गुंजन खेमका हत्याकांड में गिरफ्तार कर जेल भेजा गया अभिषेक वर्मा उर्फ मस्तु वर्मा न सिर्फ जरायम पेशा की दुनिया में अपनी धमक रखता है बल्कि राजनीतिक गालिआरों भी उसकी आहट साफ सुनाई दे रही है। 

जी हां उसका गवाह है रसूखदारों और सफेदपोशों के साथ खींची गयी तस्वीरें । तस्वीरों की लंबी फेहरिश्त यह साबित करती है कि मस्तु न सिर्फ कुख्यातों के बीच बैठता उठता है बल्कि राजनीतिक गलियारों में भी उसने गहरी पैठ बना रखी है। भाजपा के कई नेताओं और मंत्रियों के साथ उसकी निकटता तो है ही सुल्तानगंज निवासी अजय कुमार सहित कई कुख्यातों से भी उसके नजदीकी रिश्ते हैं। इन रिश्तों का खुलासा मस्तु के फेसबुक प्रोफाइल से ही हो रहा है। किसी तस्वीर में वो प्रसिद्ध पार्श्व गायक उदित नारायण के साथ तो किसी तस्वीर में पथ निर्माण मंत्री नंद किशेर यादव तो किसी तस्वीर में विधान पार्षद रणवीर नंदन के साथ दिखाई दे रहा है।  अपने एक पोस्ट में मस्तु ने रणवीर नंदन को पाटलिपुत्र लोकसभा से उम्मीदवार बनाए जाने की भी वकालत भी की है। हालांकि रणवीर नंदन की तस्वीर पटना सिटी के अजय वर्मा के साथ भी है। सुल्तानगंज निवासी अजय वर्मा पर लगभग दो दर्जन संगीन मामले दर्ज हैं फिलहाल अजय जेल से बाहर है और राजनीतिक गतिविधियों में भी लगा है।

मस्तु वर्मा से भी अजय वर्मा की नजदीकियां जगजाहिर हैं और मस्तु की अजय वर्मा के साथ कई तस्वीरें भी हैं। मस्तु ने 2017 में पटना नगर निगम के वार्ड पार्षद चुनाव में वार्ड नंबर 62 से अपनी पत्नी पम्पी वर्मा को खड़ा किया था पर वह चुनाव हार गई थी। गौरतलब है कि अजय वर्मा कुम्हरार से पिछला चुनाव बतौर निर्दलीय लड़ चुका है। गौरतलब है कि गुंजन खेमका की हत्या बीते 20 दिसम्बर को तब कर दी थी थी जब वह पटना से हाजीपुर के इंडस्ट्रीयल एरिया स्थित अपने फैक्ट्री जाने के क्रम में फैक्ट्री के मुख्य द्वार पर अपनी गाड़ी और ड्राइवर के साथ पहुंचे थे। तभी घात लगाए एक अपराधी ने कार में ही उन्हें गोली मार दी जिससे उनकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी। पुलिस ने इस मामले में पांच दिनों पूर्व मस्तु वर्मा और उसके एक सहयोगी राहुल आनंद उर्फ चीकू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

Find Us on Facebook