मंत्री नीरज कुमार का नेता प्रतिपक्ष पर बड़ा हमला, कहा-बीमार पिता की कभी सेवा नहीं की, अब मातृऋण से भी विमुख हो गए

मंत्री नीरज कुमार का नेता प्रतिपक्ष पर बड़ा हमला, कहा-बीमार पिता की कभी सेवा नहीं की, अब मातृऋण से भी विमुख हो गए

Patna : नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव द्वारा आज बिहार की जनता और राजद नेताओं और कार्यकर्ताओं से रात नौ बजे लाइट बंद कर लालटेन जलाने का आह्वान किया है। इधर तेजस्वी के इस आह्वान पर जदयू नेता व बिहार सरकार के सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री नीरज कुमार तेजस्वी पर बड़ा हमला बोला है। 

मंत्री नीरज कुमार ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पिता के न्यायिक प्रवास पर बीमार रहने के बावजूद पितृऋण से तो विमुख हो ही गए कभी सेवा नहीं की अब मातृऋण से भी विमुख हो गए। 

उन्होंने जितिया व्रत के बहाने तेजस्वी पर तंज कसते हुए कहा कि आज जितिया व्रत का प्रथम दिन नहाय खाय है जिसमें माताएँ संतानों की सुख-समृद्धि और दीर्घायु होने की कामना कर गर्मी के इस उष्ण मौसम में भी निर्जला व्रत रखेंगी। शास्त्रों में भी माता को देवतुल्य और कभी नहीं चुकने वाला ऋण माना गया है, पर ये कैसे कलियुगी पुत्र हैं जो अपनी माँ के साथ-साथ प्रदेश भर के राजद नेता-कार्यकर्त्ताओं की माताओं के निर्जला रहते बिजली बंद कर लालटेन की तपिश में तपाने का मंसूबा पाले हैं।

उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव को यह भी बताना चाहिए कि न्यायिक कुपात्र घोषित होकर इनके राजनैतिक आराध्य जो बेऊर, तिहाड़, होटवार में न्यायिक प्रवास पर हैं। आज उन्हें लालटेन पहुंचाने का जिम्मा किसका है। तेजस्वी यादव खुद जाएँगे या उनके दल का कोई अन्य व्यक्ति जाएगा। उन्हें नाम सार्वजनिक करना चाहिए।

नीरज कुमार ने कहा कि बिजली बंद कर लालटेन जलाने का जो शिगूफा तेजस्वी यादव ने छोड़ा है यह किसी आंदोलन का प्रारूप नहीं इसका आमजनों से कोई सरोकार नहीं बल्कि यह सिर्फ और सिर्फ राजद के चुनाव चिन्ह के प्रचार का हथकंडा मात्र है।

उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव बेरोजगारी पर सवाल नहीं कर रहे खुद के रोजगार की तलाश कर रहे हैं। यदि वो संजीदा हैं तो उनको चाहिए कि उनके नाम पर बेशुमार संपत्तियों की जो श्रृंखला है उसे उसी पंचायत, गाँव, वार्ड के नौजवानों को दान कर दें जिससे वो स्वरोजगार आरंभ कर लाभ ले सकें। पर ये इनके बूते की बात कहाँ। इनकी तो संस्कृति रही है जमीन लो नौकरी दो।



Find Us on Facebook

Trending News