नाबालिक किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म के बाद की हत्या, दो दिन से थी लापता, सहेली के घर से मिली लाश

नाबालिक किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म के बाद की हत्या, दो दिन से थी लापता, सहेली के घर से मिली लाश

KATIHAR : जिले में 16 साल की नाबालिक युवती से सामूहिक दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या करने का मामला सामने आया है। बुधवार को युवती जोया(काल्पनिक नाम) का शव उसकी सहेली के घर से  बरामद किया गया है। मामले में मृत युवती के परिजनों ने सहेली के परिजनों पर सामूहिक दुष्कर्म और बाद में उसकी हत्या करने का आरोप लगाया है। मामले में फिलहाल पुलिस ने एक महिला को हिरासत में लिया है। फिलहाल आजमनगर पुलिस शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

घटना जिले के आजमनगर थाना क्षेत्र के पस्तिया नया टोला गांव की है।  घटना के बारे में बताया जा रहा है कि नाबालिक लड़की दो दिन से घर से लापता थी, परिजन उसकी तलाश कर रहे थे।  इस दौरान परिजनों ने जिस घर से शव बरामद हुआ है, वह उसकी सहेली नीतू का है। परिजनों ने बताया कि जब किशोरी की तलाश में वह नीतू के घर पहुंचे थे, तो नीतू और उसके मां रेखा देवी ने घर से लापता नाबालिग लड़की उनके घर में नहीं होने की कही थी। 

सहेली के परिजनों ने कराया दुष्कर्म

मृतका के परिजनों ने बताया कि सहेली नीतू और उसकी मां  रेखा देवी ने ही पूरी साजिश रची है। उनका कहना था कि जिस जगह लाश मिली है। बिस्तर की हालत देखने के बाद ऐसा लगता है कि चार पांच लोगों ने पूरी रात उससे गैंगरेप किया गया है। इस दौरान सहेली का परिवार कई बार यह पूछने के लिए पहुंचे कि लड़की मिली की नहीं। 

परिजनों ने बताया कि युवती के लापता होने के 24 घंटे बाद किसी ने बताया कि वह सहेली के घर में हैं, जब हम वहां पहुंचे तो उसकी लाश को फंदे से उतार कर बिस्तर पल लिटाया जा रहा था। वहीं पास में उसकी सहेली और उसकी मां मौजूद थी। परिजनों ने बताया कि जोया(काल्पनिक नाम) से न सिर्फ पूरी रात गैंगरेप किया गया, बल्कि उसकी बेरहमी से पिटाई भी की गई है। उसकी कमर की हड्डी भी टूट गई है। जबकि चेहरे पर भी चोट के निशान हैं। 


फोन से मिले गांव के लड़कों के नंबर

परिजनों ने बताया कि जब नीतू की नंबर का कॉल रिकॉर्ड निकाला गया तो उसमें अपहरण के बाद गांव के कई लड़कों से फोन पर बात होने की जानकारी मिली। माना जा रहा है कि इन सभी युवकों ने ही गैंगरेप की घटना को अंजाम देने के बाद उसकी हत्या कर दी है।

मुखिया के भाई का नाम भी आया सामने

इस पूरे मामले में पंचायत के मुखिया के भाई कुसुम लाल का भी नाम सामने आ रहा है। मृतका के चाचा ने बताया कि लाश के पास से एक सिम कार्ड बरामद किया गया है। जो कि मुखिया के भाई का बताया जा रहा है।  जिसके बाद माना जा रहा है कि दुष्कर्म की घटना में वह भी शामिल हो सकता है। फिलहाल, जिस तरह से नाबालिक किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या की गई है। उसके बाद गांव में तनाव की स्थिति नजर आ रही है। 

इसी साल पास की थी दसवीं की परीक्षा

परिजनों ने बताया कि जोया(काल्पनिक नाम) ने इसी साल दसवीं की परीक्षा दी थी, जिसमें वह फर्स्ट डिवीजन से पास हुई थी। बताया जा रहा है कि वह पढ़ने में काफी होनहार थी। लेकिन गांव के युवकों की बुरी नियत और सहेली से मिले धोखे के कारण उसे अपनी जान गंवानी पड़ गई।

Find Us on Facebook

Trending News