पटना में दोस्त की पत्नी से अफेयर को लेकर हुई मर्डर, भाई ने कहा- भाभी से अकेले में मिलने आता था

पटना में दोस्त की पत्नी से अफेयर को लेकर हुई मर्डर, भाई ने कहा- भाभी से अकेले में मिलने आता था

PATNA: राजधानी पटना में भाभी के साथा अवैध संबंध को लेकर एक और मर्डर की वारदात से पर्दा उठ गया है। चर्चित भीम सिंह यादव मर्डर के पीछे लव ट्राई-एंगल है। पुलिस की छानबीन में यह बात सामने आई है कि लूटपाट के दौरान भीम सिंह की मर्डर हुई थी, लेकिन भीम सिंह यादव के भाई अर्जुन राय ने थाना में आवेदन देकर मामले में एक नया मोड़ ला दिया है।

मर्डर मामले में खुलासा यह हुआ है कि भीम सिंह यादव का मर्डर लूटपाट नहीं बल्कि पैसे और अवैध संबंध के कारण करायी गयी है। वारदात पटना के बिहटा थाना की है। अर्जुन राय के लिखित आवेदन के बाद पुलिस ने हत्या के साजिश के मामले में भीम सिंह यादव के मित्र अशोक राय को गिरफ्तार कर लिया है। अर्जुन राय ने बताया कि अशोक राय और भीम सिंह यादव के बीच गहरी दोस्ती थी। अर्जुन राय ने बताया कि इनकी दोस्ती का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि अशोक राय के अनुपस्थिति में भी उनके छोटे भाई भीम सिंह यादव ने अशोक राय की पत्नी विनीता देवी को लगभग 4 महीना पूर्व कोईलवर में पशुपालन विभाग में ट्रेनिंग करवाया था। इतना ही नहीं ट्रेनिंग पूरा होने के बाद पशु की खरीदारी के लिए लोन का आवेदन भी दिया था जो अभी विचाराधीन है। 


अशोक राय की बेटी की शादी में भीम सिंह यादव ने मदद के लिए अशोक राय को काफी पैसे दिये थे। लॉकडाउन के कारण बिजनेस व्यापार ठप हो जाने के बाद अशोक राय काम की तलाश में कोलकाता चला गया था। अशोक राय के अनुपस्थिति में भीम सिंह यादव अशोक राय के घर आना-जाना करता था। इस दौरान भीम सिंह यादव को अशोक राय की पत्नी से अवैध संबंध बन गए। इस बात की भनक जब अशोक राय को लगी तो अशोक राय ने एक योजना के तहत दानापुर स्टेशन भीम सिंह यादव को बुलाया और फिर रास्ते में ही योजना के तहत उसकी हत्या करवा डाली। अर्जुन राय यह भी बताते हैं कि कोलकाता से चलकर जो ट्रेन दानापुर पहुंची है तो भीम सिंह यादव रात्रि के वक्त ट्रेन से भी आरा आ सकते थे लेकिन एक साजिश के तहत अशोक राय ने दानापुर स्टेशन उतर कर भीम सिंह को दानापुर बुलाया। 

बता दें कि लगभग 5 दिन पूर्व बिहटा थाने के आनंदपुर बिंद टोला बांध के पास अपराधियों ने भीम सिंह यादव की हत्या चाकू से गोदकर उस वक्त कर डाली थी जब भीम सिंह यादव अपने मित्र अशोक राय को दानापुर स्टेशन से लेकर आरा सिमरा लौट रहे थे। बिहटा थाने के पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक अर्जुन राय के लिखित आवेदन पत्र त्वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस ने अशोक राय को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है इस मामले की तफ्तीश की जा रही है।

Find Us on Facebook

Trending News