कुख्यात नक्सली मुसाफिर सहनी की मौत, PMCH में इलाज के दौरान तोड़ दिया दम, छावनी में बदल गया गांव

कुख्यात नक्सली मुसाफिर सहनी की मौत, PMCH में इलाज के दौरान तोड़ दिया दम, छावनी में बदल गया गांव

पटना : कुख्यात नक्सली मुसाफिर सहनी की मौत हो गई है. सीने में दर्द की शिकायत के बाद मुसाफिर सहनी को बेऊर जेल से पीएमसीएच लाया गया था. लेकिन इलाज के दौरान नक्सली सहनी ने दम तोड़ दिया. सदर थाना क्षेत्र के थाथन बुजुर्ग गांव निवासी व नक्सली संगठन के तिरहुत जोन प्रभारी हार्डकोर नक्सली 64 वर्षीय मुसाफिर सहनी की लंबी बीमारी के बाद शुक्रवार की देर रात पटना के पीएमसीएच में हो मौत हो गई।.वह पटना के ही बेउर जेल में बंद था. मुसाफिर सहनी वैशाली जिला व मुजफ्फरपुर समेत उत्तर बिहार के विभिन्न थानों में एक दर्जन से अधिक नक्सली वारदात में शामिल रहा है .

कुख्यात नक्सली मुसाफिर सहनी को बड़ी मुश्किल के बाद 2015 में एसएसपी के ज्वाइंट ऑपरेशन में गिरफ्तार किया गया था. सहनी के खिलाफ उत्तरी बिहार में कई मामले दर्ज हैं. सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, हाजीपुर जिले के कई धानों में जरायम की कहानी लिखी हुई है.

जानकारी के मुताबि कुख्यात मुसाफिर सहनी का बेटा और भतीजा भी जेल में बंद हैं. मुसाफिर सहनी का शव गांव पहुंचने से पहले गांव को पुलिस छावनी में तबदील कर दिया गया था। कई थानों की पुलिस व एसएसबी के जवान गांव में तैनात थे . 


 

Find Us on Facebook

Trending News