मुजफ्फरपुर के सहायक उद्यान निदेशक ने भ्रष्ट तरीके से बनायी करोड़ों की संपत्ति, EOU की छापेमारी में पटना में अलीशान मकान समेत चार भूखंड मिले, बैंक में भी लाखों रुपये जमा

मुजफ्फरपुर के सहायक उद्यान निदेशक ने भ्रष्ट तरीके से बनायी करोड़ों की संपत्ति, EOU की छापेमारी में पटना में अलीशान मकान समेत चार भूखंड मिले, बैंक में भी लाखों रुपये जमा

पटना. आय से 101.51 प्रतिशत अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में आर्थिक अपराध इकाई ने मुजफ्फरपुर के सहायक उद्यान निदेशक शंभू प्रसाद के पटना एवं मुजफ्फरपुर स्थित चार ठिकानों पर छापेमारी की। इसमें राजधानी के पटेल नगर में दो करोड़ का चार मंजिला आलीशान मकान की जानकारी मिली है। साथ ही पटना में तीन अन्य भूखंड भी खरीदे हैं, जिस 2 करोड़ 46 लाख 96 हजार रुपये व्यय किया गया है। वहीं इनके बैंक खाते में दो लाख रुपये से अधिक जमा मिले हैं, जबकि इनकी पत्नी के बैंक खाते में 16 लाख 70 हजार और बेटे के खाते में 11 लाख 51 हजार रुपये जमा मिले हैं। इसके अलवा 19 लाख 70 हजार रुपये का बीमा व पोस्टल निवेश भी मिला है।

ईओयू से मिली जानकारी के अनुसार सहायक उद्यान निदेशक के विरुद्ध पद का भ्रष्ट दुरुपयोग कर अपने व परिजनों के नाम पर अकूत संपत्ति जमा करने की गुप्त सूचना मिली थी। सत्यापन में मामला सही पाए जाने पर मंगलवार को मुजफ्फरपुर स्थित सहायक उद्यान निदेशक के कार्यालय व बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस-6 परिसर के सामने स्थित किराये के आवास, पटना के पटेल नगर के रोड नंबर आठ में मकान और बेलछी थाने के फतेहपुर स्थित पैतृक आवास में छापेमारी की गई। 

तलाशी के क्रम में पटेल नगर स्थित मकान से 20 बैंक खातों के पासबुक, तीन लाकर और तीन लाख रुपये मूल्य के हीरे की खरीद से जुड़े दस्तावेज मिले हैं। इसके साथ संपतचक में 24.80 लाख के प्लाट तथा पहाड़ी स्थित तीन लाख 24 हजार के प्लाट के निबंधन दस्तावेज मिले हैं। शंभू प्रसाद के पास पटना के शास्त्रीनगर थाना के गोकुलपथ, मैनपुरा के धर्म अपार्टमेंट में एक आवासीय फ्लैट भी है। अधिकारी के दोनों पुत्रों व पत्नी के बैंक खातों में भारी नकदी जमा पाई गई है, जिससे समय-समय पर निकासी कर खर्च करने के साथ दूसरों के खातों में भी ट्रांसफर किया गया है। परिजनों के नाम से आधा दर्जन गाडिय़ां भी निबंधित हैं। इसमें होंडा सिटी, होंडा ब्रियो, टोयटा इटीएस लिवा कार के साथ तीन बाइक शामिल हैं। 

1992 में कृषि विभाग में दिया योगदान

शंभू प्रसाद ने 28 अक्टूबर 1992 को कृषि विभाग में योगदान दिया था। वह नवादा के जिला उद्यान अधिकारी, रजौली में सहायक मृदा संरक्षण पदाधिकारी व बरौनी में प्रखंड कृषि पदाधिकारी समेत कई महत्वपूर्ण पदों पर रहे हैं। देर शाम ईओयू की तलाशी जारी थी। अभी तक आय से दो करोड़ दो लाख 31 हजार रुपये की संपत्ति मिली है। अग्रतर जांच में इसमें वृद्धि होने की पूरी संभावना है। 


Find Us on Facebook

Trending News