नालंदा के बाद अब गया के डीएम हुए कोरोना पॉजिटिव, दारोगा, डीएसपी सहित कई पुलिसकर्मी भी चपेट में

नालंदा के बाद अब गया के डीएम हुए कोरोना पॉजिटिव, दारोगा, डीएसपी सहित कई पुलिसकर्मी भी चपेट में

GAYA : बिहार में कोरोना की दूसरी लहर कहर बरपा रही है. रोजाना कोरोना के हजारों नए मरीज मिल रहे हैं. पटना, गया, भागलपुर और मुजफ्फरपुर की स्थिति बदतर है. इन चार जिलों से संक्रमण अन्य जिलों के मुकाबले ज्यादा तेजी से फैल रहा है. गया की बात करें तो पिछले 24 घंटे में यहां कोरोना के 911 नए मरीज मिले हैं. जानकारी के अनुसार गया जिले के जिलाधिकारी अभिषेक सिंह भी कोरोना पोजटिव हो गए है. कोविड-19 Vaccine की दोनों डोज लेने के बाद भी जिलाधिकारी अभिषेक सिंह कोरोना के चपेट में आ गए और एक बार फिर संक्रमित हो गए. 

वही शहर के सिविल लाइन थाना के 11 पुलिसकर्मी, 4 दारोगा, 1 प्रशिक्षु डीएसपी, बाराचट्टी प्रखण्ड के बीडीओ मनोज कुमार श्रीवास्तव, सीओ कैलाश महतो उनके चालक सहित प्रखण्ड कार्यालय के 12 कर्मी भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं. इतना ही नहीं अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल के माइक्रोबायोलॉजी लैब के 11 कर्मी भी कोरोना संक्रमित हो गए है. जिसके कारण आज मगध मेडिकल में आरटीपीसीआर जांच बंद कर दिया गया. गया में संक्रमण की रफ्तार लगातार बहुत तेजी से बढ़ रही है और कोरोना ने जिले के कई अधिकारियों को अपनी चपेट में ले रखा है.

बताते चलें की कल नालंदा जिले के जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं. इस बात की पुष्टि करते हुए नालंदा के प्रभारी सिविल सर्जन डॉ राजेन्द्र कुमार राजेश ने बताया कि उनकी रिपोर्ट पोर्टल पर अपलोड कर दी गयी है. बताया गया कि उन्होंने गुरुवार को अपना कोविड टेस्ट कराया था. जिसके बाद शुक्रवार की दोपहर उनका रिपोर्ट पॉजिटिव आया. रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्होनें अपने संपर्क में आने वाले लोगों को भी जांच कराने की अपील की है. सबसे बड़ी बात यह है कि वे पूर्व में कोविड का टीका ले चुके हैं. डीएम के पॉजिटिव आने के बाद प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया है. 

जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह लगातार कोविड-19 के गाइडलाइन का  सख्ती से पालन कराने के लिए बैठक अपने अधिकारियों के साथ कर रहे थे. जिले को संक्रमण मुक्त रखने की बड़ी जवाब देही उनके कंधे पर है. ऐसे में जब जिलाधिकारी खुद संक्रमित हो गए हैं उनके साथ काम करने वाले कर्मियों में हड़कंप मचा हुआ है. जिलाधिकारी के संक्रमित होने के बाद पूरे समाहरणालय को और उनके आवास को सैनिटाइज किया गया है एवं जो भी लोग उनके संपर्क में थे सभी को कोविड-19 टेस्ट कराने की व्यवस्था स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा रही हैं. 

गया से मनोज और नालंदा से राज की रिपोर्ट

 

Find Us on Facebook

Trending News