नेशनल हेराल्ड मामला: केंद्र पर लगाया अत्याचार का आरोप, लोकसभा अध्यक्ष से कांग्रेस ने की शिकायत

नेशनल हेराल्ड मामला: केंद्र पर लगाया अत्याचार का आरोप, लोकसभा अध्यक्ष से कांग्रेस ने की शिकायत

दिल्ली. कांग्रेस ने केंद्र सरकर पर विपक्षी दलों की आवाज को दबाने का आरोप लगाया है. नेशनल हेराल्ड मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी से पूछताछ और उस दौरान कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन को दबाने के लिए पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ कांग्रेस ने मोर्चा खोल दिया है. गुरुवार को कांग्रेस का एक प्रतिनिधि मंडल लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मिलने पहुंचे। इस प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी कर रहे थे। लोकसभा अध्यक्ष से मुलाकात के बाद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि हम पर जो अत्याचार हुआ है, उसकी हमने विस्तृत जानकारी लोकसभा अध्यक्ष को दे दी है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से नेशनल हेराल्ड केस से जुड़े एक मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय 3 दिनों तक पूछताछ कर चुकी है। शुक्रवार को उनसे चौथे दिन भी पूछताछ की जाएगी। राहुल गांधी से पूछताछ के विरोध में कांग्रेस लगातार विरोध प्रदर्शन कर रही हैं। कांग्रेस केंद्र सरकार पर प्रतिशोध की राजनीति करने का आरोप लगा रही है। बुधवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया। कांग्रेस कार्यालय के पास विरोध प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच झड़प भी हुई है। 

बिरला से मिलने के बाद चौधरी ने आगे कहा कि हम पर जिस तरह से अत्याचार और हिंसा हुई है और होने वाली है उसके बारे में हमने विस्तृत जानकारी लोकसभा अध्यक्ष को दिया है। उन्होंने कहा कि स्पीकर ने हमारी बात ध्यान से सुनी। AICC दफ्तर में जाते हुए हमारे कार्यकर्ताओं और सांसदों पर जिस तरह से पुलिस ने पूर्व नियोजित तरीके से हमला किया, उससे उन्हें काफी गहरी चोट लगी है। अधीर रंजन ने दावा किया कि पुलिस थानों में भी, दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस सांसदों के साथ ऐसा व्यवहार किया जैसे हमारे सांसद और कार्यकर्ता आतंकवादी हों। राहुल गांधी को लगातार 3 दिनों तक 10-12 घंटे लंबी पूछताछ के लिए बुलाया गया था। हमें इसका कोई विरोध नहीं है। हम सिर्फ इतना कहना चाहते हैं कि प्रतिशोध और हिंसक राजनीति का प्रयोग न करें


प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने ‘नेशनल हेराल्ड’ समाचार पत्र से जुड़े कथित धनशोधन के एक मामले में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से लगातार तीसरे दिन बुधवार को करीब आठ घंटे तक पूछताछ की और इस दौरान उनसे ‘एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड’ (एजेएल) और इसका स्वामित्व रखने वाली कंपनी ‘यंग इंडियन’ से जुड़े निर्णयों में उनकी ‘निजी भूमिका’ के बारे में सवाल-जवाब किए। 

राहुल गांधी रात करीब साढ़े नौ बजे एपीजे अब्दुल कलाम रोड पर स्थित ईडी मुख्यालय से बाहर निकले। बुधवार को लगातार तीसरे दिन पूछताछ के बाद ईडी अब तक राहुल गांधी से कई सत्रों में करीब 30 घंटे पूछताछ कर चुकी है। वहीं, ईडी ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी को शुक्रवार को चौथी बार पूछताछ के लिए तलब किया है।


Find Us on Facebook

Trending News