पीएम मोदी की हत्या करना चाहता था इनामी नक्सली प्रशांत बोस, पुलिस पूछताछ में हुए कई सनसनीखेज खुलासे, जानिये कौन है...

पीएम मोदी की हत्या करना चाहता था इनामी नक्सली प्रशांत बोस, पुलिस पूछताछ में हुए कई सनसनीखेज खुलासे, जानिये कौन है...

Desk. एक करोड़ के इनामी माओवादी नेता प्रशांत बोस ने पुलिस पूछताछ में कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं. पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या के लिए रची जा रही साजिश का मास्टरमांड प्रशांत बोस ही था. साथ ही प्रशांत बोस कई घटना का मास्टरमाइंड था. बता दें कि दो दिनों पहले ही झारखंड पुलिस ने माओवादी नेता प्रशांत बोस और उसकी पत्नी को गिरफ्तार कि था.

प्रशांत की गिरफ्तारी के बाद  झारखंड के डीजीपी नीरज सिन्हा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस किया. इसमें नीरज सिंहा ने बताया कि प्रशांत बोस ने पूछताछ में जो जानकारियां दी हैं वे एक तरह से महासागर जैसी हैं, यानी पुलिस को इतनी जानकारियां मिली हैं कि अगर उस पर काम किया जाए तो पूरे माओवाद का ढांचा ही खत्म किया जा सकता है. प्रशांत से मिली सूचनाओं का विश्लेषण किया जा रहा है.

डीजीपी ने बताया कि प्रशांत बोस भाकपा माओवादी संगठन के जनक की भूमिका में था. पांच दशकों की सक्रियता के कारण बोस पर झारखंड, बिहार, ओडिशा, महाराष्ट्र, छतीसगढ़ समेत कई राज्यों में केस दर्ज हैं. बतौर सेकेंड इन कमांड देश के सारे बड़े कांड को प्रशांत बोस ने मंजूरी दी है. प्रशांत बोस के खिलाफ झारखंड में 50 जबकि शीला मरांडी के खिलाफ 18 नक्सल कांड दर्ज हैं. डीजीपी ने बताया कि बिहार, छत्तीसगढ़ समेत अन्य राज्यों में प्रशांत बोस के खिलाफ दर्ज केस की जानकारी जुटाई जा रही है. 

रची थी पीएम मोदी की हत्या की साजिश

डीजीपी ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी की हत्या की साजिश भी रची गई थी, जिसका मास्टरमाइंड प्रशांत ही था. इसके अलावा छत्तीसगढ़ में 30 कांग्रेसी नेताओं की हत्या में उसकी भूमिका थी. पूछताछ करने वाले अधिकारियों के मुताबिक, पुणे में भीमा कोरेगांव हिंसा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने में प्रशांत बोस की भूमिका थी. एनआईए की चार्जशीट में भी बोस का नाम सामने आया था.

डीजीपी नीरज सिन्हा के अनुसार भाकपा माओवादियों का पोलित ब्यूरो मेंबर प्रशांत बोस पांच दशकों से झारखंड, बिहार में माओवादियों का सबसे बड़ा चेहरा रहा है. एमसीसीआई के प्रमुख बनने से लेकर कई राजनीतिक हत्याओं तक में प्रशांत बोस मास्टरमाइंड की भूमिका में था. यही वजह थी कि झारखंड, बिहार, छतीसगढ़, पश्चिम बंगाल समेत कई राज्यों की पुलिस को ही नहीं बल्कि केंद्रीय एजेंसी सीबीआई और एनआईए तक को प्रशांत बोस की तलाश थी. सुनील महतो, रमेश सिंह मुंडा जैसे चर्चित नेताओं की हत्या में वांटेड था.


Find Us on Facebook

Trending News