पटना में जलजमाव का कहर, राहत और बचाव कार्य में जुटी एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें

पटना में जलजमाव का कहर, राहत और बचाव कार्य में जुटी एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें

PATNA: पटना में जलजमाव का कहर है। पिछले पांच दिनों से राजधानी पटना की बड़ी आबादी अपने घरों में कैद रहने को मजबूर है। पटना के राजेंद्र नगर और कंकड़बाग जैसे इलाकों में लोग पीने के पानी को लेकर तरस रहे हैं। 

पटना में भीषण जलजमाव से बाढ़ जैसी हालात उत्पन्न होने के बीच राहत एवम बचाव कार्य भी बड़े पैमाने पर चलाए जा रहे हैं।पटना के राजेन्द्र नगर, पत्रकार नगर, बहादुरपुर, भूतनाथ रोड, बाजार समिति सहित लगभग आधी राजधानी जलजमाव से जूझ रही है।इस जलजमाव में डूबते का तिनके का सहारा बनकर एनडीआरएफ एसडीआरएफ, सिविल डिफेंस, नगर निगम कर्मी सहित पुलिसकर्मियों की टीम अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं।

एनडीआरएफ की कुल 40 वोट और 6 टीमें सहित 200 कर्मी, वहीं एसडीआरएफ की 18 वोट और 3 टीमें सहित 100 से अधिक कर्मी जबकि सिविल डिफेंस के 100 से अधिक वालंटियर एवम नगर निगम की पूरी टीम लगातार 4 दिनों से लोगों के राहत एवम बचाव कार्य मे लगी है। ये टीमें लगातार पीड़ितों के बीच राहत कार्य चला रही है। गंभीर रुप से बीमार लोगों को अस्पताल तक पहुंचाने में भी ये टीमें लगातार मदद कर रही है।


Find Us on Facebook

Trending News