लापरवाही : गड्ढे में 10 फीट गहराई तक जमा था पानी, खेलते खेलते उसमें समा गए चार मासूम, मच गई चीख पुकार

लापरवाही : गड्ढे में 10 फीट गहराई तक जमा था पानी, खेलते खेलते उसमें समा गए चार मासूम, मच गई चीख पुकार

BETIYAAH : 10 फीट गहराई तक जमे पानी में डूबने से एक साथ चार बच्चों की मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों के चीख पुकार से पूरा माहौल गमगीन हो गया। मामला नरकटियागंज अनुमंडल क्षेत्र के मटियरिया थाना क्षेत्र के डरौल  पंचायत का पंचायत का बताया जा रहा है। यहां ईंट निर्माण के लिए मिट्टी की जरुरत पूरा करने के लिए गड्ढा खोदा गया था, देखते ही देखते यह गड्ढा इतना गहरा हो गया कि इसमें एक आम इंसान भी खड़े ही खड़े समा जाए। इस गड्ढे में पानी जमा था, जिसमें गांव के 4 बच्चे खेलते हुए इसमें गिर गए. उनकी डूबने से मौत हो गई. इस घटना से सनसनी फैल गई. 

जो बच्चे डूबे हैं उनमें कार्तिक कुमार पिता प्रहलाद महतो, गोविंद कुमार पिता जितेंद्र महतो, प्रिंस कुमार पिता मनोज महतो, 4 आदित्य कुमार पिता दिनेश यादव हैं. घटना के बाद हरदी बेलहवा गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है, वहीं सुनिल ईट उद्योग हरदी बेलाहवा के मालिक के खिलाफ लोग आक्रोशित हैं, जिसको देखते हुए मटियरिया थाना के अलावा कई थानों की पुलिस गांव में कैम्प कर रही है. ग्रामीणों ने बताया कि घटना शाम को लगभग 4 बजे घटी और चिमनी पर तैनात मुंशी ने घटना को छिपाया, जिसके बाद लगभग सात बजे बच्चों का शव पानी से निकाला गया. 

वहीं ग्रामीणों ने बताया कि घटना कारण चिमनी मालिक की लापरवाही है. काफी दिन से गड्ढा है, लेकिन चिमनी मालिक द्वारा गड्ढा नहीं भरा गया है। घटनास्थल पर स्थानीय थाना पहुंचकर घटना की छानबीन कर रही है.  ग्रामीणों और अभिभावकों  के बीच चिमनी मालिक सुनील कुमार के प्रति काफी आक्रोश है. फिलहाल पुलिस स्थिति को नियंत्रित करने में जुटी है


Find Us on Facebook

Trending News