SDPI के प्रदेश अध्यक्ष शमीम अख्तर के घर पर NIA की रेड, अख्तर बोले- मोदी सरकार खत्म करना चाहती है उनकी पार्टी

SDPI के प्रदेश अध्यक्ष शमीम अख्तर के घर पर NIA की रेड, अख्तर बोले- मोदी सरकार खत्म करना चाहती है उनकी पार्टी

नालंदा. पटना के फुलवारी शरीफ थाना क्षेत्र से पकड़े गए संदिग्ध आतंकियों के पास से मिले दस्तावेज के बाद लगातार बिहार के कई जिलों में एनआईए टीम छापेमारी कर रही है। इसी कड़ी में आज फिर से एनआईए की टीम नालंदा समेत कई जिले पहुंची। एनआईए की टीम आज अहले सुबह सोहसराय थाना क्षेत्र के खासगंज मोहल्ला पहुंची। जहां एसडीपीआई के प्रदेश अध्यक्ष शमीम अख्तर के घर रेड की। हालांकि उस वक्त शमीम अख्तर घर पर मौजूद नहीं थे। जिसके बाद शमीम अख्तर के छोटे भाई दानिश को हिरासत में लेकर पुलिस स्थानीय थाना सोहसराय पहुंची। यहां से पूछताछ के बाद कुछ कागजों पर सिग्नेचर करा कर छोड़ दिया गया। 

एनआईए की टीम के जाने के बाद शमीम अख्तर अपने घर पहुंचे। इसके बाद मीडिया से बातचीत के दौरान एसडीपीआई के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि फुलवारी शरीफ के अंदर 13 जुलाई को जो कांड हुआ, उसी सिलसिले में एनआईए की टीम सर्च वारंट लेकर आई थी। एक घण्टे तक सर्च करके वापस चली गई।

केंद्र सरकार पर हुए हमलावर

एसडीपीआई के प्रदेश अध्यक्ष शमीम अख्तर इस दौरान केंद्र सरकार पर हमलावर दिखे। उन्होंने कहा कि अभी हाल में ही बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पटना आकर यह बयान दिया था कि अब क्षेत्रीये पार्टियां खत्म हो जाएगी। केंद्र सरकार ईडी, एनआईए, सीबीआई को अपनी कठपुतली बनाकर लोगों को परेशान करने का काम कर रही है। चाहे मामला बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से जुड़ा हुआ हो, बंगाल की सीएम ममता बनर्जी से जुड़ा हुआ हो, दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया से जुड़ा हुआ हो या झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से जुड़ा हुआ। सभी को केंद्र सरकार के द्वारा परेशान किया जा रहा है। क्षेत्रीय पार्टी को समाप्त करने के षड्यंत्र से ही आज एसडीपीआई के प्रदेश अध्यक्ष के घर एनआईए की रेड पड़ी है। इसके पूर्व पार्टी के जिला अध्यक्ष, जिला के महासचिव के घर एनआईए की टीम के द्वारा छापेमारी की गई है। शमीम अख्तर ने कहा की आज केंद्र सरकार के द्वारा लोकतंत्र की हत्या की जा रही है।

कौन है शमीम अख्तर

पटना पुलिस के द्वारा फुलवारीशरीफ थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है। इसमें नालंदा जिले के सोहसराय थाना इलाके के खासगंज मोहल्ला निवासी शमीम अख्तर को भी आरोपित बनाया गया। समीम जिले में एसडीपीआई सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया का कर्ता-धर्ता है। दर्ज एफआईआर में तीसरा नाम समीम अख्तर का ही है। शमीम अख्तर इसके पूर्व बिहार शरीफ विधानसभा का चुनाव भी लड़ चुका है। हाल ही में नूपुर शर्मा के विवादित बयान के विरोध में शहर प्रदर्शन का नेतृत्व कर चुका है।

मुजफ्फरपुर में भी छापा

मुजफ्फरपुर जिले में एनआईए टीम ने काजी मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत माड़ीपुर स्थित एक मुहल्ले में एक मौलाना के घर पर रेड की। इसके साथ ही एनआईए की टीम ने कई सारी कागजात और लैपटॉप सहित अन्य दस्तावेज जप्त कर लौटी। मिली जानकारी के अनुसार सुबह 8 बजे ही एनआईए की टीम पहुंची और सर्च वारेंट देखते हुए घर में घुस कर कई कमरे की छानबीन की, जो करीब 7 घण्टों तक चला। इसके साथ ही जिले के सकरा थाना क्षेत्र के बरियारपुर गांव में भी एनआईए टीम ने छापेमारी की।

Find Us on Facebook

Trending News