कटिहार में नूर मोहम्मद के कुंडली खंगालने पहुंची एनआईए टीम, परिवार के सदस्यों से की घंटों पूछताछ

कटिहार में नूर मोहम्मद के कुंडली खंगालने पहुंची एनआईए टीम, परिवार के सदस्यों से की घंटों पूछताछ

KATIHAR : आतंकियों के साथ कनेक्शन को लेकर एनआईए की टीम बीते बुधवार को बारसोई थाना क्षेत्र के चांदपारा पहुंची थी। जहां एनआईए की टीम ने नूर मोहम्मद नाम के एक व्यक्ति के घर पर दस्तक दी। बताया गया कि नूर मोहम्मद कुछ समय से जेल में बंद है। लेकिन उसका आंतकियों से कैसा कनेक्शन है, इस बात की जांच की लिए टीम यहां पहुंची थी। 

एनआईए की टीम को आने को लेकर अब बारसोई थाना क्षेत्र के नूर मोहम्मद के पैतृक घर जहां वह अपने माता पिता और चाचा के साथ चांदपारा मोहल्ले में रहता था वहां कई तरह के चर्चा है। नूर मोहम्मद छह सालों से कटिहार से बाहर हैं इस दौरान एक बार यह भी चर्चा हुआ था की नूर मोहम्मद गायब हो गया है लेकिन दोबारा पता चला किसी मामले में पुलिस ने नूर मोहम्मद पुलिस कस्टडी में है, उसके बाद से ही गांव में दबे जुबान से लोग नूर मोहम्मद को जोड़कर दबी जुबान से ट्रेरर फंडिंग की भी चर्चा करते रहे हैं।

इस बात को और बल तब मिल गया जब 15 जून को अहले सुबह एनआई के टीम बारसोई थाना क्षेत्र के बंगाल बॉर्डर से सटे चांदपुरा गांव में नूर मोहम्मद के घर पहुंच गई और पूरे घर की कई घंटों तक तलाशी ली। इसके बाद चार गाड़ी पुलिस और दो गाड़ी से पहुंचे एनआईए की टीम कई घंटों तक बारसोई थाना में बैठकर नूर मोहम्मद के चाचा रिजवान से भी पूछताछ किया। पूछताछ के बाद नूर मोहम्मद के चाचा को छोड़ दिया गया है, 

स्थानीय लोग बताते हैं कि एनआईए की टीम नूर मोहम्मद के घर से कुछ कागजात लेकर गए हैं पूरे मामले पर ग्रामीण द्वारा इस बात की पुष्टि की जा रही है स्थानीय लोग बताते हैं कि एनआईए की टीम नूर मोहम्मद के घर से उसका वोटर कार्ड, आधार कार्ड की ओरिजिनल कॉपी और एक डायरी बरामद की है. इन दस्‍तावेजों को लेकर एनआईए की टीम अपने साथ ले गई है। मगर नूर मोहम्मद के टेरर फंडिंग या देश विरोधी गतिविधियों में क्या कनेक्शन है इस बारे में कोई भी कुछ बता पाने की स्थिति में नहीं है।


Find Us on Facebook

Trending News