खुद की 'सरकार' में असुरक्षित हैं BJP के दिग्गज! नीतीश सरकार की 'पुलिस' 77 MLA वाली सत्ताधारी नेताओं को नहीं रख पा रही सुरक्षित

खुद की 'सरकार' में असुरक्षित हैं BJP के दिग्गज! नीतीश सरकार की 'पुलिस' 77 MLA वाली सत्ताधारी नेताओं को नहीं रख पा रही सुरक्षित

PATNA: सत्ताधारी दल बीजेपी के नेता व विधायक खुद की सरकार में ही सुरक्षित नहीं हैं। अग्निपथ को लेकर जारी विरोध का खामियाजा बीजेपी नेताओं को उठाना पड़ रहा है। भले ही बिहार में एनडीए गठबंधन में बीजेपी सबसे बड़ी साझीदार हो, फिर भी बिहार की पुलिस उस दल के नेताओं को सुरक्षित नहीं रख पा रही। हद तो तब जब सरकार के डिप्टी सीएम का आवास भी सुरक्षित नहीं। न डिप्टी सीएम और न प्रदेश भाजपा अध्यक्ष की हिफाजत बिहार की पुलिस कर पाई. पिछले चौबीस घंटे में भाजपा के कई बड़े नेताओं को टारगेट कर हमले किये गये। कई विधायकों के आवास को निशाना बनाया गया। यह सबकुछ होते रहा और पुलिस मुकदर्शक बनी रही। दरअसल, बीजेपी की सहयोगी जेडीयू ने अग्निपथ मामले पर साथ छोड़ दिया है। जेडीयू ने इसे गलत करार देते हुए केंद्र से वापस लेने की मांग कर दी है।  

डिप्टी सीएम से लेकर प्रदेश अध्यक्ष निशाने पर 

शुक्रवार को बिहार के डिप्टी सीएम रेणु देवी के आवास पर उपद्रवियों ने हमला बोल दिया। अग्निपथ योजना का विरोध कर रहे लोगों ने डिप्टी सीएम के बेतिया आवास को निशाना बनाया। हालांकि रेणु देवी अपने बेतिया आवास पर नहीं थी.लेकिन, हंगामा कर रहे लोगों ने उनके घर को तोड़फोड़ दिया। साथ ही वहां रह रहे लोगों के साथ हाथापाई भी की। पथराव में घर के शीशे टूट गये। किसी तरह से स्थिति को नियंत्रित किया गया।


भाजपा के कई विधायकों पर हमले

इतना ही नहीं, बिहार बीजेपी के अध्यक्ष व सांसद डॉ. संजय जायसवाल को भी असमाजित तत्वों ने निशाने पर लिया। अग्निपथ योजना के विरोध कर रहे उपद्रवियों ने प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल के बेतिया आवास पर हमला बोल दिया। इस दौरान संजय जायसवाल अपने आवास पर ही मौजूद थे। आज उपद्रवियों ने उनके आवास को टारगेट पर ले लिया। भाजपा अध्यक्ष के आवास पर जमकर पथराव किया गया। भाजपा के बड़े नेताओं के आवास को निशाना बनाया गया लेकिन अलर्ट के बाद भी पुलिस का कोई पता नहीं था। सूचना के बाद पुलिस के वरीय अधिकारी पहुंचे लेकिन तब तक भारी निकसान हो चुका था। आज ही बेतिया के लौरिया से भाजपा विधायक विनय बिहारी पर हमला हुआ। करीब 200 की संख्या में उपद्रवियों ने उन्हें घेर लिया। हंगामा कर रहे लोगों ने उनके गाड़ी को बुरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया। विधायक उसमें मौजूद थे. उनके सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें बचा लिया। आज विनय बिहारी के लिए खतरा हो सकता था। विनय बिहारी के चेहरे पर इसका भय साफ साफ देखा जा सकता है। गुरूवार को भी उपद्रवियों ने भाजपा के छपरा से विधायक सी. एन. गुप्ता के आवास पर हमला बोला था। चिरैया से बीजेपी विधायक लालबाबू गुप्ता के आवास पर भी उपद्रवियों ने तोड़-फोड़ किया था। साथ ही नवादा,लखीसराय समेत कई अन्य जिलों में भाजपा दफ्तर में आग लगा दी गई है। 

पुलिस के रवैये से खुश नहीं हैं संजय जायसवाल 

बिहार की सरकार और पुलिस के इस रवैये से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जयसवाल खुश नहीं है. संजय जायसवाल ने बताया कि उनके घर को उड़ाने की साजिश थी. भीड़ द्वारा उनके घर पर डीजल और पेट्रोल छिड़कर जलाने का प्रयास किया गया. उन्होंने स्थानीय प्रशासन की कार्यशैली पर भी सवाल खड़ा करते हुए कहा है कि जैसी कार्रवाई प्रशासन को करनी चाहिए थी वैसी कार्रवाई नहीं की. 

जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने कहा है कि अग्नि पथ योजना से बिहार सहित देश के अन्य राज्यों के छात्रों एवं युवाओं में असंतोष का भाव उभरा है। जगह-जगह हिंसक घटनायें हो रही है, केंद्र सरकार को अविलंब संज्ञान लेकर पुनर्विचार करना चाहिए। ...छात्रों-युवाओं को आश्वस्त करना चाहिए कि उनके भविष्य पर इसका कोई प्रतिकूल असर नहीं होगा।


Find Us on Facebook

Trending News