नीतीश सरकार में सहयोगी बीजेपी आ गई विपक्ष की भूमिका में, भाजपा नेताओं के ताबड़तोड़ हमले से सकते में सीएम

नीतीश सरकार में सहयोगी बीजेपी आ गई विपक्ष की भूमिका में, भाजपा नेताओं के ताबड़तोड़ हमले से सकते में सीएम

PATNA: बिहार में भले हीं राजद मुख्य विपक्षी पार्टीं हो लेकिन पटना में विपदा आने के बाद बीजेपी मुख्य विपक्षी पार्टी की भूमिका में आ गई है। राजद का कहीं कोई अता-पता नहीं है ,वहीं प्रतिपक्ष की भूमिका को बीजेपी पूरी तरह से निर्वहन कर रही है।पटना में हीं सुशासन के डूब जाने के बाद बीजेपी के छोटे से लेकर बड़े नेता सीधे तौर पर सीएम नीतीश पर निशाना साध रहे हैं। बीजेपी नेताओं के हमले से सरकार सकते में आ गई है। बीजेपी के नेता खुलेआम नीतीश सरकार में बेलगाम हो चुकी अफसरशाही पर अटैक कर रहे हैं। जिस पार्टी के बूते नीतीश कुमार की सरकार चल रही उसके नेता हीं सरकार की सबसे अधिक खिंचाई कर रहे हैं। बीजेपी के नेता यह कहने से नहीं चुक रहे कि राजधानी पटना की जो विपदा है वो मानवजनित है।इस विपदा के लिए प्रकृति नहीं बल्कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनकी मशीनरी दोषी है।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा-विचलित हूं

बिहार बीजेपी के छोटे नेताओं की बात छोड़िए खुद प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल ने बिहार के सुशाशन की सरकार पर सवाल खड़े कर चुके हैं। प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने पटना में जलजमाव को लेकर नीतीश सरकार पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने राजधानी पटना के पानी-पानी होने पर प्रशासनिक लापरवाही को जिम्मेवार बताया है।संजय जायसवाल ने कहा है कि विगत कुछ दिनों से पटना के हालात पर विचलित हूं। प्राकृतिक आपदा पर किसी का बस नहीं होता है पर 24 घंटे बारिश रुक जाने के बाद भी पानी का नहीं निकलना यह बताता है कि प्रशासनिक लापरवाही जरूर हुई है।वे आज भी अपने बयान पर डटे हैं और कह रहे हैं कि जिन अधिकारियों ने लापरवाही बरती उन पर कार्रवाई करवाके हीं दम लूंगा।

गिरिराज बोले-मांफी मांगे सीएम

उधर केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के फायरब्रांड नेता गिरिराज सिंह नीतीश सरकार पर हर दिन हमला बोल रहे हैं।उन्होंने तो यहां तक कह दिया है कि नीतीश सरकार आपदा में पूरी तरह से फेल हो चुकी है।उन्होंने कहा है कि राजधानी पटना में जलजमाव और बाकी इलाकों में बाढ़ को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री और डिप्टी सीएम दोनों जिम्मेदार हैं।उन्होंने कहा है कि कि पटना की नारकीय स्थिति के लिए प्रकृति नहीं बल्कि हमसब जिम्मेदार हैं।इसलिए राजधानी वासियों से हमसबको माफी मांगनी चाहिए।उन्होंने कहा था कि सभी जिम्मेदार पद पर बैठे जनप्रतिनिधि राजधानी को इस स्थिति में लाने के लिए अपनी गलती कबूलें और जनता से माफी मांगें।खुद गिरिराज सिंह ने राजधानीवासियों से माफी मांग ली और कहा था कि जनप्रतिनिधि होने के नाते हम अपनी गलती स्वीकार करते हैं।लेकिन जो पद पर बैठे व्यक्ति हैं उन्हें अपनी गलती स्वीकार करते हुए पटना की जनता से माफी मांगनी चाहिए।इन नेताओं के अलावे सीपी ठाकुर,सच्चिदानंद राय,अश्विनी चौबे समेत कई नेताओं ने राजधानी पटना की आपदा के लिए बिहार सरकार की मशीनरी को दोषी ठहराया है।

जेडीयू भी सहयोगी को दे रही भरपूर जवाब

हालांकि जेडीयू की तरफ से अब हमले शुरू हो गए हैं।पार्टी ने कई जवाब देने के लिए कई मंत्रियों को उतार दिया है। जेडीयू कोटे के मंत्री श्रवण कुमार,अशोक चौधरी,श्याम रजक समेत कई नेताओं ने बीजेपी पर सीधा अटैक किया है।


Find Us on Facebook

Trending News