नालंदा में अस्पताल से निकलकर घर लौट रही नर्स को ई-रिक्शा ने मारी टक्कर, इलाज के दौरान हुई मौत

नालंदा में अस्पताल से निकलकर घर लौट रही नर्स को ई-रिक्शा ने मारी टक्कर, इलाज के दौरान हुई मौत

NALANDA : बिहार थाना क्षेत्र के पैला पोखर के समीप शनिवार की देर शाम ई-रिक्शा की टक्कर से जख्मी महिला की इलाज के दौरान मौत हो गयी। मृतका की पहचान नूरसराय थाना क्षेत्र के पपरनौसा गांव निवासी राम गुलेल प्रसाद की 28 वर्षीया पत्नी सुनीता कुमारी के रूप में की गई है। वह लहेरी थाना क्षेत्र के शिवपुरी मोहल्ले में किराए पर रहती थी। महिला निजी क्लीनिक में नर्स का काम करती थी।


सहकर्मी नवीन कुमार ने बताया की सुनीता कुमारी पैला पोखर स्थित निजी क्लिनिक में काम करते है। शिफ्ट खत्म होने के बाद दोनों अपने घर जाने के लिए क्लिनिक के बाहर निकल रहे थे। तभी सड़क पर तेज रफ्तार ई रिक्शा ने पहले उन्हें टक्कर मारा। उसके बाद सुनीता कुमारी को अपनी चपेट में ले लिया। जिससे वह ई रिक्शा के नीचे फंस गई और सड़क पर करीब 10 फ़ीट तक घसीटते चली गई। जिससे वह गंभीर रूप से जख्मी हो गई। 

उसने बताया की जख्मी हालत में उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी मौत हो गई। वहीँ स्थानीय लोगों ने भाग रहे ई-रिक्शा चालक को पकड़कर पोल में बांध कर जमकर पिटाई की। हालांकि मौके पर पहुंची पुलिस उसे किसी तरह लोगों के चंगुल से छुड़ा कर थाना लायी।

मृतका सुनीता कुमारी अपने पीछे दो बेटी और एक बेटा छोड़ गई है। वह घर में इकलौते कमाऊ सदस्य थी, जो निजी क्लीनिक में रहकर नर्स का काम करते हुए अपने बच्चों का भरण पोषण कर रही थी। पति का दिमागी हालत ठीक नहीं था और वह 8 साल पूर्व ही घर से कहीं निकल गया था, जो अब तक नहीं लौटा है। नगर थानाध्यक्ष संतोष कुमार ने बताया कि ई रिक्शा चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है। महिला के शव का पोस्टमार्टम करा कर परिजन को सौंप दिया गया है।

नालंदा से राज की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News