जवाद चक्रवात से बचाने ओडिशा सरकार ने 400 से अधिक गर्भवती महिलाओं को अस्पतालों में किया शिफ्ट

जवाद चक्रवात से बचाने ओडिशा सरकार ने 400 से अधिक गर्भवती महिलाओं को अस्पतालों में किया शिफ्ट

भुवनेश्वर. तूफानी चक्रवात जवाद का खतरा तेजी से उत्तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिणी ओडिशा के समुद्री तटों के जिलों को प्रभावित करने लगा है. पिछले 24 घंटों से दोनों राज्यों के करीब एक दर्जन जिलों में तेज बारिश हो रही है. खासकर विशाखापत्तनम, श्रीकाकुलम, ब्रह्मपुर, पलासा, पुरी, कटक, भुवनेश्वर आदि जिलों में तेज हवा और बारिश का असर शुरू हो गया है जो रविवार से और ज्यादा तेज होने की संभावना है. 

ओडिशा सरकार चक्रवात प्रभावित जिलों में एहतियातन कई कदम उठा रही है. विशेषकर पुरी में मौजूद पर्यटकों को सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट करने के साथ ही शेष लोगों को वापस जाने की व्यवस्था की गई है. वहीँ समुद्र तटों पर कारोबार करने वालों को भी वहां से पुलिस की मौजूदगी में हटाया जा रहा है. 

इस बीच ओडिशा सरकार चक्रवात प्रभावित जिलों से गर्भवती महिलाओं को चक्रवात जवाद के मद्देनजर अस्पतालों में स्थानांतरित कर रही है। अब तक 400 से अधिक गर्भवती महिलाओं को अस्पतालों में ले जाया जा चुका है। इन महिलाओं को अस्पतालों में शिफ्ट करने का मुख्य मकसद उन्हें सुरक्षा के साथ बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराना है. 

ओडिशा के साथ ही आंध्र प्रदेश में भी चक्रवात से प्रभावित होने की संभावना वाले क्षेत्रों में स्थानीय लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है। यहाँ शिक्षण संस्थानों को पहले ही बंद करने की घोषणा की जा चुकी है. 


Find Us on Facebook

Trending News