आईआईटी रिजल्ट में मिथिलांचल में ओमेगा के बच्चों का रहा दबदबा, 60 से अधिक बच्चों ने मारी बाजी

आईआईटी रिजल्ट में मिथिलांचल में ओमेगा के बच्चों का रहा दबदबा, 60 से अधिक बच्चों ने मारी बाजी

DARBHANGA : राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी, NTA ने संयुक्त प्रवेश परीक्षा, जेईई मेंन 2022 सत्र 2 का रिजल्ट सोमवार अहलें सुबह जारी कर दिया है। जिसमें दरभंगा के मिर्जापुर स्थित आईआईटी एवं मेडिकल की प्रसिद्ध कोचिंग संस्थान ओमेगा स्टडी सेंटर लगातार पांचवें वर्ष भी आईआईटी-जी (मेंस-2022 ) में सर्वश्रेष्ठ रिजल्ट देकर अपनी श्रेष्ठता बरक़रार रखी। 


उत्तर बिहार की प्रसिद्ध शिक्षण संस्थान ओमेगा स्टडी सेंटर के 60 से अधिक बच्चों ने आईआईटी-जी (मेंस-2022 ) में बेहतर रैंक के साथ सफलता हासिल कर आईआईटी-जी (एडवांस) के लिए चयनित किए गए हैं। बच्चों ने अपने सपने को अथक परिश्रम और बेहतरीन मार्गदर्शन के बल पर हकिकत कर दिखाया है। वहीं संस्थान के चेयरमैन सुमन कुमार ठाकुर एवं मैनेजिंग डायरेक्टर सुमित कुमार चौबे ने अपने सभी सफल छात्र-छात्राओं के साथ यह जानकारी साझा करते हुए बताया कि सफल बच्चों के श्रेणी में  हिमांशु कुमार झा  AIR 1256 केटेगिरी रैंक 135, हर्ष कुमार मिश्रा AIR 2979 कैटेगरी रैंक 353, सोनू कुमार झा 6587 कैटेगिरी रैंक 819, चेतन कुमार AIR 12949 कैटेगिरी रैंक 2909, अमर कुमार 21837 कैटेगिरी रैंक 5364, सौम्या सिन्हा AIR 22718,  कौस्तुव AIR 23854, फरजान राशिद  AIR 24541, मानस अग्रवाल AIR 24771, ओशिका ठाकुर  कैटेगिरी रैंक 4285,अनन्य शिव  रैंक 4984, शांतनु  रैंक 5004, ऋतिक राज  रैंक 5754, विक्रम गुप्ता  रैंक 11911, सिमरन रैंक 12068, अंकित भट्ट  रैंक 13548, नयन चौधरी  रैंक 7942, तन्नू  रैंक 8230,  वेदिका रैंक 22550, रिया झा, अभिषेक, हिमांशु, अंशु एवं अभिमन्यु मिश्रा सहित 60 से अधिक बच्चों ने बेहतरीन रिजल्ट हासिल कर अपने संस्थान कि श्रेष्ठता को राज्य स्तर पर पुनः सिद्ध किया है। उन्होंने कहा की यह मिथिलांचल के लिए गौरव का क्षण प्रतीत हो रहा है। यदि यहाँ के बच्चों को सही मार्गदर्शन दिया जाए तो सफलता उनके कदमों में होगा। 

संस्थान के चेयरमैन ने बताया कि इस बड़ी सफलता के पीछे संस्थान के मैनेजिंग डायरेक्टर सुमित कुमार चौबे सर का अथक मेहनत है एवं संस्थान के सभी शिक्षकगण का पूर्णत: समर्पित एवं संकल्पित योगदान है विशेष रुप से संस्थान के शिक्षक रुपेश कुमार, संतोष कुमार पंडित, डी० के० सर, आर० के० सर, एन० के० सर सहित सभी अनुभवी शिक्षकों एवं प्रवीण कुमार, रौशन कुमार, अनुराग कुमार सहित पुरे मैनेजमेंट टीम का विशेष योगदान रहा है। 

संस्थान के एमडी सुमित चौबे ने बताया की आईआईटी (जी - मेंस ) में इस तरह का रिजल्ट देना किसी भी संस्थान के लिए काफी चुनौतीपूर्ण होता है परंतु संस्थान के पास विशेष शिक्षकों  की  टीम एवं काफी मेहनती बच्चे हैं जिनके बदौलत यह सब पिछले कुछ वर्षों से हमारे संस्थान ने रिजल्ट के मामले में एक मिशाल पेस किया हैं। साथ ही उन्होंने बताया कि जिस प्रकार से इस परीक्षा को लेकर पूरी योजना बनाई गई थी। वह पूर्णत: सफल हुई। जिसमें रेगुलर क्लास, ऑनलाइन टेस्ट, रेगुलर डाउट क्लास एवं  फोकस्ड सेल्फ स्टडी ने बच्चों को इतने बड़े परीक्षा में सफलता के लिए पूर्णत: तैयार किया। अंत में ठाकुर ने कहा की अब सुदूर गांव देहात  के बच्चे भी  यहां रहकर आईआईटी जाते हैं। यह संस्थान के बच्चों ने पिछले पांच वर्षों से प्रतिवर्ष बेहतरीन रिजल्ट देकर साबित किया है। उन्होंने कहा की संस्थान आने वाले नीट के बेहतर रिजल्ट को लेकर भी काफी उत्साहित है एवं आगे और बेहतर रिजल्ट के लिए सदैव कृतसंकल्पित हैं।

दरभंगा से वरुण ठाकुर की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News