पंचायती राज मंत्री ने दरभंगा आयुर्वेद अस्पताल में ओपीडी का किया उद्घाटन

पंचायती राज मंत्री ने दरभंगा आयुर्वेद अस्पताल में ओपीडी का किया उद्घाटन

दरभंगा. बिहार सरकार के पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने दरभंगा के महाराजा कामेश्वर सिंह राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय के स्थापना दिवस के अवसर पर बुधवार को 15 बेड के इंडोर अस्पताल और 8 विभाग की ओपीडी सेवा का उद्घाटन किया। मौके पर सांसद गोपालजी ठाकुर, पूर्व केंद्रीय मंत्री हुकुमदेव नारायण यादव और नगर विधायक संजय सरावगी मौजूद थे।

मौके पर बिहार सरकार के पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि बिहार सरकार ने सवा सौ करोड़ की लागत से दरभंगा के आयुर्वेद कॉलेज और अस्पताल को अत्याधुनिक बना कर दोबारा शुरू करने की प्रक्रिया आरंभ की है। मंत्री ने कहा कि बिहार सरकार आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति के माध्यम से लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा देने का काम कर रही है।

इसी कड़ी में दरभंगा आयुर्वेद कॉलेज में अगले सत्र से पढ़ाई शुरू होगी और इस अस्पताल का भी जीर्णोद्वार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में यहां पंचकर्म चिकित्सा पद्धति की व्यवस्था की जाएगी, ताकि लोगों को इसके लिए बाहर नहीं जाना पड़े। उन्होंने कहा कि आयुर्वेद को बढ़ावा देने से क्षेत्र में रोजगार को भी बढ़ावा मिलेगा।

राजकीय आयुर्वेद कॉलेज के प्राचार्य सह अस्पताल अधीक्षक वैद्य दिनेश्वर प्रसाद ने बताया कि आयुर्वेद कॉलेज में दोबारा नामांकन और पढ़ाई शुरू करने के लिए आयुर्वेद अस्पताल को सेंट्रल कॉउंसिल ऑफ इंडियन मेडिसिन (सीसीआईएम) के मानक के अनुसार बनाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि इसे मानक के अनुरूप बनाने के लिए यहां फिलहाल 15 बेड का अस्पताल शुरू किया गया है, जिसे अगले 2 महीने में 60 बेड का बना दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इसके अलावा 8 विभागों की ओपीडी सेवा भी आज से शुरू हो रही है। अस्पताल को मानक के अनुसार बनाने के बाद वे भारत सरकार के पास इस कॉलेज में फिर से इस कॉलेज को फिर से मान्यता देकर यहां नामांकन शुरू करने के लिए विधिवत आवेदन करेंगे। उन्होंने कहा उम्मीद है कि सत्र 2022-23 से दरभंगा आयुर्वेद कॉलेज में पढ़ाई शुरू हो जाएगी। 


Find Us on Facebook

Trending News