देश को मिले 275 एसएसबी जवान, बगहा में नव प्रशिक्षुओं का हुआ पासिंग आउट परेड

देश को मिले 275 एसएसबी जवान, बगहा में नव प्रशिक्षुओं का हुआ पासिंग आउट परेड

BAGAHA : एसएसबी 65 वीं शिविर में 275 नवप्रशिक्षुओं का दीक्षांत समारोह आज सम्पन्न हो गया। प्रथम दीक्षांत समारोह मे 275 नव प्रशिक्षुओं को जीडी की उपाधि मिली। इसमें नव प्रशिक्षुओं ने ट्रेनिंग की दक्षता व कठिन परिश्रम की उत्कृष्टता को प्रदर्शित किया। उनकी कला और साहस को देखकर सभी ने तालियाँ बजाकर उनका उत्साहवर्धन किया। नव प्रशिक्षुओं का गार्ड ऑफ ऑनर क्षेत्रक मुख्यालय बेतिया के डीआईजी सुनील कुमार ध्यानी ने लिया। कुल 275 नव प्रशिक्षुओं को ईमानदारी, कर्तव्यनिष्ठा व समर्पण के साथ राष्ट्र सेवा करने की शपथ दिलाई गई। सभी आरक्षी भारत के अलग अलग राज्यों का प्रतिनिधित्व करते है, जिनमें आंध्रप्रदेश से 16, असम से 32, बिहार से 50, झारखंड से 20, महाराष्ट्र से 28, उड़ीसा से 28, त्रिपुरा से 18, उत्तर प्रदेश से 37और  पश्चिम बंगाल से 46 प्रशिक्षु हैं। कमांडेंट पंकज डंगवाल के द्वारा डीआईजी सुनील कुमार ध्यानी को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। 

डीआईजी ने अपने सम्बोधन मे दीक्षांत परेड मे हिस्सा ले रहे सभी प्रशिक्षुओ को कड़ी मेहनत एवं सच्ची लगन के लिए शुभकामनाएं दी। परेड के दौरान बैंड प्रदर्शन, स्वान दस्ता प्रदर्शन, नव आरक्षियों द्वारा मास पीटी, टैटो ड्रील, वोल्टिंग बॉक्स, यूएससी तथा योग का मनमोहक प्रदर्शन किया गया। इनका प्रदर्शन देख दीक्षांत समारोह में आये अभिभावकों सहित सभी अतिथि गौरवान्वित हुए। कमांडेंट पंकज डंगवाल ने अपने सम्बोधन मे बताया की आज के बदलते हुए परिदृश्य एवं बल की बढ़ती हुई जिम्मेदारियों को ध्यान मे रखते हुए इनको प्रशिक्षित किया गया है। इन्हे शारीरिक रूप से सुदृढ़ एवं मानसिक रूप से दक्ष बनाने की भरपूर कोशिश की गई है। प्रशिक्षण के दौरान इन्हे शारीरिक प्रशिक्षण, ड्रिल, हथियार, योगा, सीमा प्रबंधन, प्राथमिक उपचार, आपदा प्रबंधन, बेसिक कंप्यूटर स्किल, निहत्थी लड़ाई कानून इत्यादि मे निपुण बनाया गया है। सीमाओं पर तैनाती के दौरान मानव अधिकारों की संवेदनाओं एवं सामाजिक दायित्वों के निर्वहन से भी पूरी तरह परिचित कराया गया है। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान इस बात का विशेष ध्यान रखा गया कि प्रशिक्षण के बाद ये नव आरक्षी एक अच्छे कार्मिक के साथ एक अच्छा नागरिक भी साबित हों। देशहित मे चल रही विभिन्न सामाजिक योजनाओ के साथ भी इनको जोड़ा गया, जिसमे स्वच्छ भारत अभियान एवं वृक्षारोपण इत्यादि प्रमुख है। पूरा विश्वास है की ये प्रशिक्षु अपनी वाहिनी मे जाकर सफल कार्मिक के रूप मे अपनी जिम्मेदारियों को पूरी ईमानदारी व निष्ठा से निर्वहन करते हुए अपनी वाहिनी बल एवं राष्ट्र का नाम रौशन करेंगे। समारोह के दौरान छः प्रशिक्षुओं को सरहनीय एवं उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए अवार्ड दिया गया।

दीक्षांत समारोह मे डीआईजी क्षेत्रक मुख्यालय बेतिया सुनील कुमार ध्यानी, कमांडेंट चिकित्सा डॉ. विनय अग्रवाल, कमांडेंट चिकित्सा डॉ. ममता अग्रवाल, अनुमंडल अधिकारी बगहा दीपक कुमार मिश्रा, अपर अनुमंडल अधिकारी बगहा सरफराज नवाज, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी बगहा कैलाश प्रसाद,  द्वितीय कमान अधिकारी 44वी वाहिनी नरकटियागंज अनिल कुमार सिंह, उप कमांडेंट अरविंद कुमार चौधरी, उप कमांडेंट सतीश चन्द्र गंगवार, उप कमांडेंट रामबीर सिंह यादव, उपकमांडेंट 21वी वाहिनी अंगु सिंह, नैतिक जागरण मंच वेल्फेयर ट्रस्ट के सचिव सह शिक्षक निप्पु कुमार पाठक, प्रशिक्षुओं के अभिभावक, स्कूली बच्चे तथा 65वी वाहिनी के समस्त जवान उपस्थित रहे।

बगहा से माधवेन्द्र पाण्डेय की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News