फिजियोथैरेपी के छात्र-छात्राओं को प्रदर्शन करना पड़ा महंगा, जमकर हुई मारपीट, पीड़ितों ने थाने में की शिकायत

फिजियोथैरेपी के छात्र-छात्राओं को प्रदर्शन करना पड़ा महंगा, जमकर हुई मारपीट, पीड़ितों ने थाने में की शिकायत

BODHGAYA : मगध विश्वविद्यालय के फिजियोथैरेपी विभाग के छात्रों के साथ मारपीट का मामला सामने आया है। छात्र छत्राओं का आरोप है की फिजियोथेरेपी के छात्र छात्रा पिछले कई महीनों से परीक्षा लंबित रहने की समस्या को लेकर कुलपति से मांग कर रहे थे। आज भी उनका प्रदर्शन जारी था। इसी दौरान उनके साथ मारपीट और धक्का-मुक्की की गयी है। 


इस मामले में फिजियोथेरेपी के छात्र छात्राओं ने मगध विश्वविद्यालय थाना में लिखित तौर पर शिकायत की है। दिए गए आवेदन में लिखा गया है कि मनुलाल पुस्तकालय के पास शांतिपूर्ण वार्ता करने के उद्देश्य से फिजियोथेरेपी विभाग के छात्र खड़े थे। उसी बीच एम यू के कुलपति रजिस्ट्रार की गाड़ी से आए और साथ में कई प्रोफेसर और छात्र भी थे। 

उनलोगों के द्वारा फिजियोथेरेपी के छात्रों के साथ गाली गलौज और मारपीट किया गया है, जिसमें तीन छात्र घायल हो गए है। इस मामले में छात्रों ने एमयू थानाध्यक्ष से कड़ी कार्रवाई की मांग की है। 

इधर छात्र नेता कुणाल किशोर का कहना है कि मनुलाल पुस्तकालय मे हिंदी विभाग के द्वारा बुद्ध की धरती पर एक कवि सम्मलेन का आयोजन किया गया था,जिसमे कई लोग विशिष्ट अतिथि के रूप में बाहर से आए थे। उस सम्मेलन के विरोध करने की मंशा से फिजियोथेरेपी के छात्र छात्रा खड़े थे। उन्होंने कहा की इस मामले में मारपीट नहीं हुई है, बल्कि उनलोगों को समझाया गया था। हमलोग अपनी गेस्ट को बाहर निकालने के उद्देश्य से भीड़ भाड़ को हटाने की कोशिश कर रहे थे।

बोधगया से संतोष की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News