मधुबनी कांड को लेकर अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने की मांग, पीड़ित परिवार को मिले सरकारी नौकरी

मधुबनी कांड को लेकर अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने की मांग, पीड़ित परिवार को मिले सरकारी नौकरी

PATNA : बिहार के मधुबनी में होली के दिन हुए सामूहिक नरसंहार मामले में अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ट्रस्ट के राष्ट्रीय संरक्षक श्रीमंत विक्रमादित्य सिंह जूदेव, राष्ट्रीय अध्यक्ष ऋषि पाल सिंह, राष्ट्रीय संरक्षिका जया सिंह जूदेव, संरक्षक दिलीप कुमार सिंह राणा, ग्रेट खली शेर सिंह राणा एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम कुमार सिंह अधिवक्ता ने संयुक्त रूप से बयान जारी कर बिहार सरकार से मांग की है कि दोषियों के खिलाफ कठोर से कठोर कदम उठाया जाए।

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ट्रस्ट के राष्ट्रीय संरक्षक श्रीमंत विक्रमादित्य सिंह जूदेव एवं राष्ट्रीय संरक्षिका जया सिंह जूदेव ने जारी बयान में कहा है कि उन्हें बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर पूरा भरोसा है कि पीड़ित परिवार को जल्द से जल्द न्याय मिलेगा. दोषियों के खिलाफ कठोर कदम उठाए जाएंगे. प्रशासनिक स्तर पर हुई लापरवाही में दोषी पाए गए पदाधिकारियों पर कठोर कार्रवाई होगी तथा पीड़ित परिवार के सदस्यों को सरकारी नौकरी तथा उचित सरकारी मुआवजा प्रदान किया जाएगा।

जारी बयान में कहा गया है कि मधुबनी की घटना प्रशासनिक लापरवाही, अपराधी, नेता, प्रशासन गठजोड़ का नतीजा है. दोषी व्यक्तियों के संरक्षण दाताओं के भी नाम उजागर होने चाहिए. मामले में संलिप्त सभी लोगों को स्पीडी ट्रायल चलाकर कठोर से कठोर सजा मिलनी चाहिए। साथ ही बिहार के मुख्यमंत्री से इस पूरे मामले निष्पक्ष जांच कराने की भी मांग की गई है. पीड़ित परिवार को उचित सुरक्षा तथा मुआवजा भी अविलंब मिलना चाहिए। संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम कुमार सिंह अधिवक्ता ने कहा कि संगठन के बिहार प्रदेश अध्यक्ष विष्णु शंकर सिंह प्रदेश के पदाधिकारियों के संग जल्द ही बिहार सरकार के मंत्रियों से मिलकर एक ज्ञापन सौंपेंगे. जिसमें संगठन के तरफ से इस मामले को लेकर किए गए मांग पत्र को शामिल किया गया है. 

Find Us on Facebook

Trending News