पीएम मोदी ने दिया चीन को बड़ा झटका, चीन के बनाए हवाई अड्डे पर नहीं उतरने का ऐलान

पीएम मोदी ने दिया चीन को बड़ा झटका, चीन के बनाए हवाई अड्डे पर नहीं उतरने का ऐलान

DESK. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नेपाल के दौरे पर जाने वाले हैं. लेकिन अपने नेपाल दौरे के पहले ही पीएम मोदी ने चीन को सख्त संदेश दे दिया है. पीएम मोदी की ओर से कहा जा रहा है कि वे नेपाल में भैरवा एयरपोर्ट पर नहीं उतरेंगे. इसका निर्माण चीन की मदद से नेपाल ने कराया है. 

पीएम मोदी बुद्ध पूर्णिमा यानी 16 मई को नेपाल के दौरे पर रहेंगे. लेकिन, पीएम मोदी भैरवा में चीन के बनाए नेपाल के दूसरे अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट पर नहीं उतरेंगे बल्कि उनका हेलिकॉप्टर सीधे लुंबिनी जाएगा जो भैरवा एयरपोर्ट से 18 किमी की दूरी पर है. इसमें खास बात यह है कि पीएम मोदी जब लुंब‍िनी जाएंगे, उसी दौरान पाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देऊबा इसी एयरपोर्ट का उद्घाटन कर रहे होंगे. 

चीन ने भारत की सीमा से 6 किमी की दूरी पर भैरवा में अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट तैयार किय है. 10 लाख यात्रियों को संभालने की क्षमता रखने वाले इस एयरपोर्ट पर पीएम मोदी ने नहीं उतरने का फैसला लेकर चीन को कड़ा संदेश देने की रणनीति के रूप में देखा जा रहा है. वहीं, पीएम मोदी के लुंबिनी में लैंड करने के लिए एक हेलिपैड तैयार किया गया है. मोदी वहां अंतरराष्‍ट्रीय मेडिटेशन सेंटर का उद्घाटन करेंगे और बौद्ध विहार की आधारशिला भी रखेंगे.

इस बीच, पीएम मोदी के चीन द्वारा तैयार किए गए एयरपोर्ट पर नहीं उतरने से नेपाल में विवाद खड़ा हो गया है. काठमांडू पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक नागर विमानन मंत्रालय से जुड़े एक पूर्व अधिकारी संजीव गौतम ने कहा कि यह एक राजनायिक असफलता है. उन्होंने कहा कि जब  दो अलग-अलग कार्यक्रम एक ही समय पर और एक ही जगह पर होंगे तो एक कार्यक्रम दब जाएगा.' गौतम ने कहा, 'यह नेपाली पक्ष की कमजोरी है. नेपाल की कूटनीति चाहे वह अर्थव्‍यवस्‍था हो या विमानन क्षेत्र हमेशा से ही खराब रही है. हम एक बार फिर से फेल साबित हुए हैं.


Find Us on Facebook

Trending News