पीएम मोदी आ रहें बिहार ,रैली में होना है शामिल तो करना होगा ये काम..

DESK: बिहार विधानसभा चुनाव अब सर पर है ऐसे में हर एक पार्टी लगातार चुनावी सभा कर रहें है . इसी  के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी ने अपने स्टार प्रचारक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  की रैलियों की तैयारियों को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है. प्रधानमंत्री पीएम मोदी आगामी 23 अक्टूबर से बिहार में चुनावी रैलियों  की शुरुआत करने वाले हैं. 23 अक्टूबर से 3 नवंबर तक राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के उम्मीदवारों के समर्थन में पीएम मोदी 12 चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे. इन रैलियों के साथ-साथ पीएम मोदी की वर्चुअल सभाएं भी होंगी, जिसके जरिए समूचे प्रदेश के विधानसभा क्षेत्रों के मतदाताओं तक वे अपनी बात पहुंचाएंगे.

कोरोनाकाल  में हो रहे विधानसभा चुनाव के बीच मौजूदा राजनीतिक हालात में एनडीए और खासकर बीजेपी के लिए पीएम मोदी की ये रैलियां बेहद अहम हैं. राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के मुख्यमंत्री पद के दावेदार तेजस्वी यादव की चुनावी रैलियों में जिस तरह से भीड़ की तस्वीरें आ रही हैं, उसको देखते हुए पीएम मोदी की रैली में भी बड़ी संख्या में लोगों के आने की उम्मीद है. इसके मद्देनजर रैली में आने वालों के लिए कई  सारे नियम भी तय किए गए हैं.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बिहार में होने वाली चुनावी रैलियों में उनके साथ एनडीए के घटक दलों के सभी प्रमुख नेता भी साथ होंगे. पीएम मोदी के साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी इन रैलियों का हिस्सा होंगे. उनके अलावा वीआईपी और हम के नेता भी पीएम मोदी के साथ मंच साझा करेंगे.इसके साथ बताते चलें कि पीएम मोदी की बिहार में पहली रैली 23 अक्टूबर को होगी. इस दिन पीएम मोदी तीन जिलों में चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे. सासाराम, गया और भागलपुर में होने वाली इन चुनावी रैलियों की तैयारी एनडीए के घटक दलों ने शुरू कर दी है.

चुनावी रैलियों के दौरान पीएम मोदी एनडीए के घटक दलों के उम्मीदवारों के समर्थन में वोट की अपील करेंगे, इसको देखते हुए राजग के सभी दलों के उम्मीदवार अपने-अपने क्षेत्रों में इन रैलियों को सफल बनाने की तैयारी कर रहे हैं.

पीएम मोदी 23 अक्टूबर से लेकर 3 नवंबर तक बिहार में कुल 12 रैलियां करने वाले हैं. इसके जरिए वे समूचे प्रदेश की विभिन्न विधानसभा सीटों पर चुनाव में खड़े एनडीए के प्रत्याशियों के समर्थन में वोट जुटाने की कोशिश करेंगे.

बिहार चुनाव के मद्देनजर पीएम नरेंद्र मोदी सासाराम, गया, भागलपुर, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, पटना, छपरा, पूर्वी चंपारण, समस्तीपुर, पश्चिमी चंपारण, सहरसा और अररिया में अलग-अलग दिनों में चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे.

कोरोना वायरस महामारी के संक्रमण का खतरा न हो, इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा. साथ ही प्रशासन की ओर से जो भी दिशा-निर्देश होंगे, वे भी मानने होंगे.

पीएम मोदी की रैली में आने वाले सभी लोगों को मास्क लगाना जरूरी होगा. रैली में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सैनेटाइजर की व्यवस्था भी की जाएगी, जिसका इंतजाम भारतीय जनता पार्टी की ओर से किया जाएगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी रैलियों के साथ-साथ बीजेपी की वर्चुअल सभाएं भी चलाने का कार्यक्रम है. जहां भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा होगी, उसके आसपास के विधानसभा क्षेत्रों में एलईडी स्क्री लगाकर उनकी सभा का प्रसारण किया जाएगा.

पीएम नरेंद्र मोदी की रैली जिस जिले में होगी, उसके पास के 20 विधानसभा क्षेत्रों में एनडीए की तरफ से एलईडी स्क्रीन लगाई जाएंगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण एक साथ 100 मैदानों में सुना जा सकेगा.

बिहार में 28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को तीन चरणों में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान कराए जाने हैं. पीएम मोदी की पहली रैली के बाद बाकी सभी रैलियां मतदान की इन तिथियों के करीब ही रखी गई हैं.

Find Us on Facebook

Trending News