जो अलीगढ़ तालों से घरों और दुकानों की रक्षा करता था, वो अब भारत की सीमाओं की रक्षा का काम करेगा- पीएम मोदी

जो अलीगढ़ तालों से घरों और दुकानों की रक्षा करता था, वो अब भारत की सीमाओं की रक्षा का काम करेगा- पीएम मोदी

अलीगढ़. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजा महेंद्र प्रताप सिंह स्टेट यूनिवर्सिटी का शिलान्यास किया. साथ ही डिफेंस कॉरिडोर के नोड के कार्यों की समीक्षा की. इस दौरान उन्होंने कहा कि आज राधा अष्टमी भी है, यह अवसर आज के दिन को और भी पुनीत बनाता है. इस दौरान उन्होंने देशवासियों को राधा अष्टमी की हार्दिक बधाई दी. साथ ही उन्होंने विपक्षियों को भी आड़े हाथ लिया और बिना नाम लिए ही विपक्षियों पर हमला बोला.

पीएम मोदी ने कहा कि अलीगढ़ के रक्षा उपकरण भी कल तक जो अलीगढ़ ताले के जरिए घरों और दुकानों की रक्षा करता था, वो अलीगढ़ अब 21वीं सदी में हिंदुस्तान की सीमाओं की रक्षा करेगा करेगा. यहां ऐसे आयुध बनेंगे वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट यूपी सरकार ने अलीगढ़ के ताले और हार्डवेयर को एक नई पहचान कराने का कार्य किया है. इससे नए अवसर मिलेंगे, जो छोटे उद्यमी को बढ़ावा मिलेगा.

पीएम ने कल्याण सिंह को किया याद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह को याद करते हुए अपने भाषण की शुरूआत की. पीएम ने कहा कि आज वो जहां कहीं भी होंगे बहुत खुश होंगे. पीएम मोदी ने बिना नाम लिए कांग्रेस और विपक्षी दलों पर निशाना भी साधा. उन्होंने कहा कि भारत का इतिहास ऐसे राष्ट्र भक्तों से भरा पड़ा है. ऐसे आजादी के दिवानों ने अपना सबकुछ खपा दिया, लेकिन ये देश का दुर्भाग्य रहा कि आजादी के बाद ऐसे राष्ट्र नायक और नायिकाओं की तपस्या से देश की अगली पीढ़ियों को परिचित ही नहीं कराया गया. उनकी गाथाओं को जानने से देश की कई पीढ़ियां वंचित रह गई. 20वीं सदी की उन गलतियों को सुधार रहे हैं.

विपक्षियों पर साधा निशाना

पीएम मोदी ने समाजवादी और बहुजन समाज पार्टी पर भी निशाना साधा और बगैर नाम लिए कहा कि एक दौर था जब उत्तर प्रदेश में शासन-प्रशासन गुंडो और माफियाओं की मनमानी से चलता था. अब वसूली करने वाले और माफिया राज चलाने वाले सलाखों के पीछे हैं. मैं पश्चिम उत्तर प्रदेश के लोगों को विशेष तौर पर याद दिलाना चाहता हूं कि इसी क्षेत्र में चार-पांच साल पहले परिवार अपने ही घरों में डरकर जीते थे.

अपराधी अपराध करने से पहले सौ बार सोचता है

पीएम ने कहा कि बहन बेटियों को घर से निकलने में और स्कूल-कॉलेज जाने में डर लगता था. जबतक बेटियां घर वापस नहीं आए, माता-पिता की सांसे अटकी रहती थीं. कितने ही लोगों को अपना पुश्तैनी घर छोड़ना पड़ा और पलायन करना पड़ा. आज कोई भी अपराधी ऐसा करने से पहले 100 बार सोचता है. योगी जी की सरकार में गरीब की सुनवाई भी है और गरीब का सम्मान भी है.

Find Us on Facebook

Trending News