बेगूसराय में पत्रकार हत्याकांड का पुलिस ने किया उद्भेदन, तीन आरोपियों को बंगाल से किया गिरफ्तार

बेगूसराय में पत्रकार हत्याकांड का पुलिस ने किया उद्भेदन, तीन आरोपियों को बंगाल से किया गिरफ्तार

BEGUSARAI : जिले के चर्चित पत्रकार हत्याकांड के तीन अन्य आरोपी को बेगूसराय पुलिस ने बंगाल से गिरफ्तार किया है। पत्रकार सुभाष की हत्या के बाद न सिर्फ बेगूसराय बल्कि पुरे बिहार के पत्रकारों में आक्रोश उबलने लगा था। पत्रकारों के साथ साथ जनमानस में उबलते आक्रोश की वजह से बेगूसराय पुलिस ने आरोपी  के घर पर बुलडोजर भी चलाये। जिस वजह से दो आरोपियों ने कोर्ट में आत्म समर्पण कर दिया था। जबकि तीन अन्य अपराधी पुलिस की गिरफ्त से बचने के लिए एक राज्य से दूसरे राज्य में छुपछुप कर भागते रहे। हालाँकि पुलिस ने तीन आरोपी को पश्चिम बंगाल के चंदन नगर से दबोच लिया। इस कांड के उद्भेदन की जानकारी बेगूसराय एसपी योगेंद्र कुमार ने दी।


एसपी योगेंद्र कुमार ने बताया की परिहारा ओपी क्षेत्र के सांखू गांव में नवीन महतो की शादी थी। गांव की एक लड़की ने खगड़िया निवासी अपने बॉयफ्रेंड प्रियांशु को उस शादी समारोह में शामिल होने के लिए बुलाया था। शादी से पूर्व वैवाहिक कार्यक्रम में डीजे बज रहा था। उसी डीजे पर प्रियांशु के साथ वह  लड़की डांस कर रही थी। जिसका ग्रामीणों ने विरोध किया। लड़की के सामने ग्रामीणों का इस कदर विरोध करना प्रियांशु को नागवार गुजरा। फिर वह बदला लेने की नियत से वह इन तीनो के अलावे बाबूल राठौर के साथ दुबारा वहां आया और ग्रामीणों के साथ नोंक झोंक किया। इस दौरान प्रियांशु और रौशन ने वहां ग्रामीणों के साथ विरोध कर रहे  पत्रकार सुभाष को गोली मार कर हत्या कर दी। इस  घटना को अपराधियों ने उस वक्त अंजाम दिया था जब सुभाष अपनी मौसी के घर से भोज खिलाने के बाद वह अपने घर  लौट रहा था।

एसपी योगेंद्र कुमार ने बताया कि हत्या के बाद तीनो आरोपी बंगाल में छुपछुप कर रह रहे थे। उनकी पहचान न हो सके। इसके लिए ये तीनो बंगाल पुलिस की आंखों में धूल झोंक कर फर्जी आधार कार्ड बनाकर रह रहे थे। इधर तीनों अपराधी की गिरफ्तारी के लिए बेगूसराय की पुलिस टीम लगातार  छापेमारी कर रही थी। उधर पश्चिम बंगाल में फर्जी प्रमाण पत्र के साथ रहना शुरू किया तो उनकी संदेहास्पद हावभाव देख पश्चिम बंगाल के पुलिस ने तीनों अपराधी को हिरासत में लेकर गहन जांच-पड़ताल की। जिसके बाद उनके  फर्जी तरीके से रहने का खुलासा हुआ। फिर पश्चिम बंगाल की पुलिस ने बेगूसराय पुलिस से संपर्क किया तो यह पत्रकार सुभाष कुमार के हत्यारे के रूप में सामने आया।

उधर पत्रकार की हत्या के बाद अपराधियों पर लगातार पुलिस के द्वारा कार्यवाही की गई। बाद में बेगूसराय पुलिस के द्वारा अपराधी के घर को बुलडोजर से ध्वस्त भी किया गया था। जिसके बाद दो आरोपियों ने न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया था। जबकि अन्य तीन फरार चल रहे थे। आरोपी की  पहचान खगड़िया जिला के रहने वाले रोशन कुमार, प्रियांशु कुमार और सौरभ कुमार के रूप में की गई थी। पुलिस सभी आरोपियों को जेल भेज कर सख्त से सख्त सजा दिलाने की कार्रवाई में जुट गई है। 

बेगूसराय से कृष्ण बल्लभ नारायण की रिपोर्ट  

Find Us on Facebook

Trending News