POSITIVE NEWS: कोविड महामारी के बाद रुबन मेमोरियल हॉस्पिटल में किडनी का हुआ सफल प्रत्यारोपण

POSITIVE NEWS: कोविड महामारी के बाद रुबन मेमोरियल हॉस्पिटल में किडनी का हुआ सफल प्रत्यारोपण

PATNA: बिहार ने अस्पताल और इलाज के मामले में काफी तरक्की की है. पिछले कुछ दशक तक बिहार में इलाज संबंधी सुविधाओं का अभाव होने के कारण लोगों को मजबूरन बाहर जाना पड़ता था. मगर समय के साथ साथ विज्ञान ने भी तरक्की की औऱ बिहार ने भी. अब लगभग हर रोग से संबंधित डॉक्टर बिहार की राजधानी पटना में ही मौजूद हैं जिससे बिहार भर के लोगों को सुविधा हो गई है.

इसी कड़ी में रुबन अस्पताल के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीनियर यूरोलॉजिस्ट डॉक्टर सत्यजीत कुमार सिंह ने बिहार में सबसे पहले सफल किडनी प्रत्यारोपण की शुरुआत की थी. साल 2008 में गांधी मैदान के रूबन मेमोरियल हॉस्पिटल में 6 मरीजों का सफल किडनी प्रत्यारोपण किया गया था. मगर बीच में कोरोना महामारी ने इस नेक काम में कुछ विघ्न डाल दिया, जिसके वजह से यह काम अटका हुआ था.

बता दें कि साल 2008 से लेकर 2020 तक कुल 14 मरीजों का सफल किडनी प्रत्यारोपण किया जा चुका है. एक बार फिर से कोरोना महामारी के बाद बिहार में रुबन हॉस्पिटल ने दो किडनी मरीजों का सफलतापूर्वक प्रत्यारोपण किया है. किडनी प्रत्यारोपण में लेप्रोस्कोपी तकनीक का प्रयोग किया गया है, जिसमें कम चीरे की मदद से किडनी डोनर की किडनी लेकर 5 दिन में ही हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया जाता है. इस सफल किडनी प्रत्यारोपण में जिन डॉक्टरों की टीम शामिल थी, उनमें सीनियर यूरोलॉजिस्ट डॉ सत्यजीत सिंह, सीनियर नेफ्रोलॉजिस्ट डॉक्टर पंकज हंस, सीनियर एनेस्थेटिस्ट डॉ जे.सी. पांडेय, डॉ राजेश रंजन, डॉ वैभ विकास, डॉ जमशेद अनवर, डॉ जयंत, डॉ राजीव, डॉ विजय शंकर, डॉ अविनाश मौजूद रहे.

Find Us on Facebook

Trending News