गंडक नदी में रेल पुल से टकराई नाव, एक महिला लापता, खोज में जुटी एनडीआरएफ की टीम

गंडक नदी में रेल पुल से टकराई नाव, एक महिला लापता, खोज में जुटी एनडीआरएफ की टीम

BAGAHA : शुक्रवार को संध्या नगर के वार्ड संख्या आठ कैलाशनगर घाट के ठीक सामने एक नाव हादसे में चार लोग डूब गए. स्थानीय नाविकों की तत्परता से डूब रहे तीन लोगों को बाहर निकाल लिया गया. जबकि एक वृद्ध महिला मुख्य धारा में बह गई. उसकी खोज स्थानीय गोताखोरों के द्वारा की जा रही है. घटना की सूचना पर अधिकारियों की टीम घटनास्थल पर कैंप कर रही है. 

प्रखंड बगहा दो के बीडीओ प्रणव कुमार गिरी ने बताया कि हादसे में घायल महिला की तलाश के लिए एनडीआरएफ की टीम बुलाई गई है. घटना की सूचना के बाद कैलाशनगर मोहल्ले के लोग मौके पर जुट गए. बताते चलें कि प्रशासनिक सख्ती के बावजूद गंडक नदी में छोटी नावों के परिचालन पर रोक नहीं लग पा रही है. लोगों का कहना था कि रोक के बावजूद प्रतिदिन गंडक नदी में छोटी-बड़ी नावों का परिचालन हो रहा है. 

बताया जा रहा है कि धनहां थाना क्षेत्र के सिकंदर बीन व उसका मित्र रमेश राम अपने फुफेरे भाई मुन्ना बीन, वार्ड संख्या 13 शास्त्रीनगर मोहल्ला निवासी के यहां रहकर गंडक में मछली मार जीविकोपार्जन करते थे. शुक्रवार को घर की महिला सदस्य इशरावती देवी के साथ तीनों गंडक नदी में मछली मारने गए थे. लौटने के क्रम में नाव पुराने रेल पुल से टकरा कर पलट गई व मुख्यधारा में फंस गई. हादसे के बाद चारों नदी में बहने लगे. 

जिसमें तीन क्रमश: सिकंदर बीन, रमेश राम व मुन्ना बीन को नदी से बाहर निकाल लिया गया. जबकि मुन्ना की मां इशरावती (65) मुख्य धारा में बह गई. सूचना पर पहुंचे बीडीओ प्रणब कुमार गिरी के नेतृत्व में एनडीआरएफ की टीम शव की तलाश कर रही है. एसडीएम शेखर आनंद ने कहा कि हादसे की जानकारी मिली है. 

बगहा से माधवेन्द्र पाण्डेय की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News