हादसे में हो गई युवक की मौत, आठ घंटे बाद भी पुलिस के नहीं आने से ग्रामीण हो गए आक्रोशित

हादसे में हो गई युवक की मौत, आठ घंटे बाद भी पुलिस के नहीं आने से ग्रामीण हो गए आक्रोशित

 नालंदा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा में पुलिस की लापरवाही से स्थानीय लोग परेशान हैं । सोमवार की देर रात राजगीर थाना क्षेत्र के पंडितपुर गांव के समीप बाइक बाइक की टक्कर में एक युवक की मौत हो गई थी । घटना की सूचना ग्रामीणों द्वारा थानाध्यक्ष को दी गई । परंतु 8 घंटे बीत जाने के बाद भी राजगीर थाना पुलिस घटनास्थल नहीं पहुंची। मृतक सीमा गांव निवासी 22 वर्षीय राकेश कुमार है ।

इसी बात से आक्रोशित ग्रामीणों ने मंगलवार की सुबह सिलाव थाना क्षेत्र के सीमा गांव के समीप शव को सड़क पर रखकर आगजनी करते हुए बिहार शरीफ राजगीर मार्ग को जाम कर दिया। परिजनों ने बताया कि देर रात वह किसी काम से राजगीर जा रहा था। इसी दौरान पंडितपुर के समीप तेज रफ्तार से आ रही बाइक ने टक्कर मार दी । जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई । सड़क जाम की सूचना मिलते ही डीएसपी मौके पर पहुंचकर लोगों को कार्यवाही का भरोसा दिलाया । तब जाकर आक्रोशित लोग शांत हुए और जाम हटाया जा सका।

सरकार की व्यवस्था पर सवाल

एक तरफ राज्य सरकार इस बात की घोषणा करती है कि पटना के राज्य के किसी भी हिस्से में जाने के लिए अधिकतम पांच घंटे का समय लगेगा, ऐसा प्रयास किया जा रहा है, दूसरी तरप पर्यटन के लिए विकसित किए जा रहे राजगीर की पुलिस की किसी दुर्घटनास्थल तक पहुंचने में आठ घंटे से ज्यादा का समय लग जाता है। यह पुलिस की फुर्ती को दिखाती है कि वह किसी सड़क हादसे को कितनी गंभीरता से लेते हैं। यह तब है जब एक दिन पहले ही यहां नए एसपी ने जिम्मेदारी संभाली है और उन्होंने पुलिस व्यवस्था में सुधार की बात कही थी।


Find Us on Facebook

Trending News