आज के दिन हुआ था शोमैन राजकपूर का जन्म, पढ़िए इतिहास के पन्नों में 14 दिसंबर

आज के दिन हुआ था शोमैन राजकपूर का जन्म, पढ़िए इतिहास के पन्नों में 14 दिसंबर

N4N DESK : कैलेण्डर के पन्नों के बदलने के साथ गुजरे हुए पल इतिहास बन जाते हैं. धीरे धीरे हम साल के अंतिम महीने में पहुँच चुके है. आज की बात करें तो 14 दिसम्बर का इतिहास के पन्नों में काफी महत्व हैं. इसी दिन दक्षिणी ध्रुव पर पहली बार इंसान ने कदम रखा था. बताते चलें की ध्रुवीय खोज के क्षेत्र में दुनिया के सबसे महान व्यक्तियों में शुमार रोआल्ड एमंडसन ने 1911 में 14 दिसंबर के दिन दक्षिणी ध्रुव पर पहली बार कदम रखा था. इसके पहले नार्वे के रहनेवाले एमंडसन ने जून 1910 में अंटार्कटिका के लिए अपनी यात्रा की शुरूआत की थी. इसके बाद तकरीबन डेढ़ वर्ष की यात्रा के बाद अपने मकसद में कामयाब हुए. 

वहीँ 14 दिसंबर को ही 1918 में बी के एस आयंगर का जन्म कर्नाटक के बेल्लूर में हुआ था. जिन्हें देश का पहला योग गुरू होने का गौरव हासिल है. उन्हें "आधुनिक योग का प्रणेता" माना जाता है. योग को दुनिया के कोने कोने में पहुँचाने के लिए 2002 में उन्हें 'पद्मभूषण' और 2014 में 'पद्मविभूषण' से सम्मानित किया गया.  'टाइम' पत्रिका ने 2004 में दुनिया के सबसे प्रभावशाली 100 लोगों की सूची में उनका नाम शामिल किया था. 

14 दिसंबर को ही 1924  में हिंदी सिनेमा के पहले शोमैन राजकपूर का जन्म हुआ था. 1930 के दशक में बॉम्बे टॉकीज में क्लैप ब्वॉय बने राजकपूर ने पृथ्वी थियेटर से अपने अभिनय जीवन की शुरूआत की और अभिनय के अलावा फिल्म निर्माण और निर्देशन में भी खूब नाम कमाया. 

जबकि 14 दिसंबर 1972 को अमेरिका द्वारा चंद्रमा पर भेजा गया मानवयुक्त अंतरिक्ष यान अपोलो 17, वापस लौटा और इसी के साथ चंद्रमा के अन्वेषण का अमेरिका का अभियान समाप्त हो गया. 14 दिसंबर 1995 को बोस्निया, सर्बिया और क्रोएशिया ने पेरिस में डेटन समझौते पर हस्ताक्षर किए. जिससे तीन वर्ष से उनके बीच चल रहे संघर्ष का अंत हो गया. 14 दिसंबर 2012 को अमेरिका में कनेक्टिकट के न्यूटाउन में गोलीबारी में प्राइमरी स्कूल के 20 बच्चों सहित 28 लोगों की मौत हो गयी. मरने वालों में 20 वर्ष का हमलावर एडम लांजा भी शामिल था. 

Find Us on Facebook

Trending News