RAKSHABANDHAN 2021: गजकेसरी योग में मनाया जाएगा त्योहार, इस वर्ष नहीं है भद्रा का साया, जानें शुभ मुहूर्त सहित विशेष बातें

RAKSHABANDHAN 2021: गजकेसरी योग में मनाया जाएगा त्योहार, इस वर्ष नहीं है भद्रा का साया, जानें शुभ मुहूर्त सहित विशेष बातें

N4N DESK: भाई बहन के सबसे अनमोल और खूबसूरत रिश्ते को समर्पित त्यौहार रक्षाबंधन आज, यानी कि, 22 अगस्त को देश भर में मनाया जाएगा। इस त्योहार का मुख्य आकर्षण राखी होती है, जिसे बहनें अपने भाई की कलाई पर सुशोभित करती है। रक्षाबंधन को लेकर बाजारों में महीने भर पहले से ही तैयारियां शुरू कर दी जाती है।

इस साल रक्षाबंधन पर भद्रा का साया नहीं है, जिसका अर्थ है कि बहने अपने भाई को पूरे दिन राखी बांध सकती हैं। हालांकि हिंदू मान्यताओं में किसी भी धार्मिक कार्य या मांगलिक कार्य को पूरा करने के लिए एक शुभ मुहूर्त निर्धारित होता है। उसी मुहूर्त में कार्य संपन्न करना सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। आइए जानते हैं क्या है इस साल के शुभ मुहूर्त-

नक्षत्र और ग्रहों की चाल

राखी का त्योहार श्रवण नक्षत्र में मनाया जाता है। इस साल धनिष्ठा नक्षत्र में रक्षाबंधन मनाया जाएगा। गजकेसरी और शोभन योग बनने से भी इस त्योहार का महत्व बढ़ रहा है। इस साल रक्षा बंधन के दिन कुंभ राशि में गुरु वक्री चाल चलेंगे और यही पर चंद्रमा भी विराजमान रहेगा। पूर्णिमा तिथि के समापन के साथ ही सावन का महीना भी समाप्त हो जाएगा। 23 अगस्त, 2021 से भाद्रपद मास का आरंभ होगा।

क्या है रक्षाबंधन का शुभ मुहूर्त

रविवार को दोपहर 01 बजकर 42 मिनट से शाम 04 बजकर 18 मिनट तक राखी बांधना सबसे शुभ रहेगा।. हिंदू कैंलेडर के अनुसार 22 अगस्त 2021, रविवार को प्रात: 06 बजकर 15 मिनट से प्रात: 10 बजकर 34 मिनट तक शोभन योग रहेगा। इस दिन धनिष्ठा नक्षत्र शाम को करीब 07 बजकर 39 मिनट तक बना रहेगा।


Find Us on Facebook

Trending News