रघुवंश प्रसाद सिंह के राजद छोड़ने पर बोले रामेश्वर चौरसिया, लोहिया के सिद्धांतों पर चलने वाले नेता है रघुवंश बाबू

रघुवंश प्रसाद सिंह के राजद छोड़ने पर बोले रामेश्वर चौरसिया, लोहिया के सिद्धांतों पर चलने वाले नेता है रघुवंश बाबू

Sasaram : राजद वरिष्ठ नेता व राष्ट्रीय उपाध्य़क्ष रहे पूर्व केन्द्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह के राजद से नाता तोड़ने पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता रामेश्वर चौरसिया ने बड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। 

आज सासाराम में रामेश्वर चौरसिया ने कहा कि रघुवंश प्रसाद सिंह विशुद्ध लोहियावादी नेता हैं। उन्होंने कर्पूरी ठाकुर के साथ लंबे समय तक काम किया है। समाज का अंतोदय कैसे हो? वह उनके सिद्धांत का मूल रहा है। यही कारण है कि उन्होंने पूरी जीवन समाज के दबे- कुचले, शोषित और पीड़ित के लिए काम किया है। 

उन्होंने कहा कि राजद के सिद्धांतो और वर्तमान नेतृत्व के फैसले से अब उन्हें ऐसा लगने लगा कि जहां वे हैं, वहां सिद्धांत नाम की चीज नहीं बची है। जिससे क्षुब्द होकर उन्होंने राजद छोड़ने का फैसला लिया होगा। 

चौरसिया ने कहा कि रघुवंश प्रसाद सिंह राजद में होते हुए भी हमेशा लोहिया के मार्ग पर ही चला। उन्होंने कभी अपने सिद्धांत के साथ समझौता नहीं किया। उन्होंने पार्टी में रहते हुए कई मौके पर अपनी ही पार्टी के फैसले का विरोध किया। अपने इस्तीफे वाले पत्र में भी उन्होंने कर्पूरी ठाकुर का जिक्र किया है। इससे स्पष्ट है कि उन्हें लग रहा है कि कर्पूरी के सिद्धांतों को राजद में रहकर लागू करा पाना अब संभव नहीं है।

रामेश्वर चौरसिया ने कहा कि इतने बड़े समाजवादी नेता आज इस स्थिति में पहुंच गए हैं। यह एक चिंतनीय विषय है। 

सासाराम से राजू कुमार की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News