पीआर इंडस्‍ट्री में बिहार का नाम रौशन कर रहे वैशाली के रंजन सिन्हा, कई अवार्ड से हो चुके हैं सम्मानित

पीआर इंडस्‍ट्री में बिहार का नाम रौशन कर रहे वैशाली के रंजन सिन्हा, कई अवार्ड से हो चुके हैं सम्मानित

PATNA : बिहार के लोग हर क्षेत्र में अग्रणीय योगदान देने में अव्वल हैं, चाहे वह कोई भी क्षेत्र हो. इससे पब्लिक रिलेशन (पीआर) का क्षेत्र भी अछूता नहीं है. इस क्षेत्र में आज वैशाली जिले के राजीव रंजन कुमार (रंजन सिन्हा) अपने उत्कृष्ट कार्यों से बिहार का नाम लगातार रौशन कर रहे हैं. ब्रांड प्रमोशन के इस दौर में बिहार में राजीव रंजन कुमार का कोई दूसरा विकल्प नहीं है, यही वजह है कि सांसद मनोज तिवारी, मेगा स्टार सह सांसद रवि किशन, सांसद दिनेश लाल यादव निरहुआ, पावर स्टार पवन सिंह, सुपर स्टार खेसारीलाल यादव, खूबसूरत अदाकारा अक्षरा सिंह जैसे बड़े फ़िल्मी कलाकारों के साथ बिहार सरकार के कई राष्ट्रीय स्तरीय एवं प्रदेश स्तरीय आयोजनों का सफल पीआर वे कर चुके हैं. इसके लिए अभी हाल ही में उन्हें दिल्ली प्रेस की सर्वाधिक पढ़ी जाने वाली पत्रिका सरस सलिल भोजपुरी सिने अवार्ड 2022 का बेस्ट पीआरओ अवार्ड भी मिला है. साथ ही उनके नाम दर्जनों अवार्ड हैं.


वैशाली जिले के राजापाकर प्रखंड के बिरना लखन सेन के रहने वाले रंजन सिन्हा पिछले 17 सालों से लगातार जनसंपर्क अधिकारी का काम कर रहे हैं. लेकिन वे चर्चा में तब आये थे, जब उन्होंने मेगा स्टार रवि किशन व प्रतिभा पांडेय की फ़िल्म 'हमरा से बियाह करबा' के लिए गजब का टैग लाइन बनाया था. उस वक्त ये टैग लाइन जबरदस्त चर्चा में था - "कौन कौन लोग थे,क्या क्या हुआ मेरे साथ,खोलूँगी राज करूंगी पर्दाफाश." इस टैग लाइन ने उस समय तहलका मचा दिया था और लोगों में अजीब सी उलझन पैदा कर दी थी. इसका फायदा फ़िल्म को मिला था और यह ब्लॉक बस्टर फ़िल्म हो गयी थी. रंजन सिन्हा अब तक 450 से भी अधिक फिल्मों के लिए जनसंपर्क का काम कर चुके हैं और उन्होंने अपने काम से फिल्म के निर्माता - निर्देशकों को उत्साहजनक परिणाम भी दिए हैं.

वैसे रंजन सिन्हा पीआर के क्षेत्र में किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं. मौजूदा दौर में अभय सिन्हा, रत्नाकर कुमार,प्रदीप के शर्मा,रौशन सिंह,निशांत उज्ज्वल जैसे बड़े निर्माता की पीआर के लिए पहली पसंद हैं. फिल्मों के अलावे इन दिनों रंजन सिन्हा दूसरे राजनीतिक, सामाजिक व सांस्कृतिक क्षेत्रों में भी जनसंपर्क का अनूठा मिशाल पेश किया है. इसके तहत वे बिहार सरकार के कला संस्कृति एवं युवा विभाग द्वारा आयोजित प्रकाशपर्व, पटना फ़िल्म फेस्टिवल,पटना शार्ट एंड रिजनल फ़िल्म फेस्टिवल, गांधी पनोरमा फ़िल्म फेस्टिवल, बिहार कला सम्मान समारोह, बाबू वीर कुंवर सिंह विजयोत्सव जैसे कार्यक्रमों को भी सफलतापूर्वक जनसंपर्क कर चुके हैं

Find Us on Facebook

Trending News