झोला छाप डॉक्टर पर भरोसा करना जिंदगी के लिए पड़ गया भारी, डिलिवरी के लिए गए जच्चा-बच्चा की हुई मौत

झोला छाप डॉक्टर पर भरोसा करना जिंदगी के लिए पड़ गया भारी, डिलिवरी के लिए गए जच्चा-बच्चा की हुई मौत

BETIA : खबर प.चम्पारण के बेतिया के नरकटियागंज से हैं जहाँ कृषि मार्केट रोड़ स्थित झोला छाप डॉक्टर द्वारा संचालित निदान नर्सिंग होम में ऑपरेशन के दौरान जच्चा-बच्चा की हुुई मौत । मृतिका की पहचान सहोदरा थाना क्षेत्र के लालकोठी निवासी प्रियंका देवी के रूप में की गई हैं।

मृतिका के परिजनों ने बताया कि डिलेवरी होने वाली थी हम लोग मरीज को लेकर सरकारी हॉस्पिटल पहुँचे। मेरे गाँव की आशा द्वारा हमें मरीज को प्राइवेट क्लीनिक में मरीज को ले जाने के लिए बोल निदान हॉस्पिटल में लाया।जहाँ डिलवरी के दौरान बच्चा मरा हुआ पैदा हुआ।मरीज की स्थिति बिगड़ रही थी।डॉ निर्भय द्वारा ऑपरेशन करने की बात कही गई।ऑपरेशन के दौरान ही मरीज की मौत हो गई और हमें मरीज को बेतिया ले जाने को बोला गया।मरीज को एम्बुलेंस में लाद डॉक्टर क्लिनिक छोड़ भाग निकले. मरीज की मौत हो चुकी थी।

परिजन शव को लेकर शिकारपुर थाना पहुँच,आवेदन दे कार्यवाही की मांग कर रहे हैं। बतादे कि नरकटियागंज में अवैध नर्सिंग होम ,जाँच घर,अल्ट्रासाउंड का संचालन धड़ल्ले से हो रहा हैं।डॉ का बोर्ड लगा कर झोला छाप डॉक्टर पैसो के लिए इंसान की जिंदगी से खुला मौत का खेल- खेल रहे हैं लेकिन स्वास्थ्य विभाग मौन हो मौत का खेल देख रही हैं।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा कार्यवाही के नाम पर खानापूर्ति किये जाने के कारण आये दिन झोला छाप डॉक्टर मरीज की जिंदगी से मौत का खेल खेल रहे हैं। गौरतलब है की कुछ दिनों पहले शिकारपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत मथुरा चौक पे संचालित एक झोला छाप डॉक्टर द्वारा ऑपरेशन किये जाने के दौरान एक महिला की मौत हो गई थी।जिसके बाद परिजनों ने शिकारपुर थाना में आवेदन दे झोला छाप डॉक्टर के खिलाफ FIR दर्ज कराया हैं।

Find Us on Facebook

Trending News