पटना में शाम को BPSC असिस्टेंट इंजीनियरिंग की परीक्षा देकर लौटा घर, रात में फांसी लगाकर कर ली खुदकुशी, जांच में जुटी पुलिस

पटना में शाम को BPSC असिस्टेंट इंजीनियरिंग की परीक्षा देकर लौटा घर, रात में फांसी लगाकर कर ली खुदकुशी, जांच में जुटी पुलिस

पटना. बीपीएससी असिस्टेंट इंजीनियरिंग की परीक्षा दे रहे अभ्यर्थी ने अपने कमरे में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। मृतक की पहचान दानापुर निवासी डॉ. राम खेलावन चौधरी का पुत्र निशांत प्रकाश के रूप में हुई है। घटना के बाद परिजनों में चीख-पुकार मच गयी और परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़कर शव को फांसी के फंदे से नीचे उतारा और आत्महत्या के कारणों की जांच में जुट गयी है।  वहीं आशंका जताई जा रही है कि निशांत ने लव अफेयर की वजह से सुसाइड किया है।

मामला दानापुर के पंचशील नगर इलाके का है। घटना के संबंध में मृतक के पिता डॉ. चौधरी ने कहा कि वह पीएमसीएच से आई डिपार्टमेंट में मेडिकल सुपरिटेंडेंट के पद से 2020 में सेवानृवित हुए है। निशांत उनका बड़ा पुत्र था और बीटेक करने के बाद बीपीएससी की तैयारी कर रहा था। गुरुवार को उसकी पटना में बीपीएससी असिस्टेंट इंजिनियरिंग की परीक्षा थी। वह परीक्षा देकर शाम को लौटा। सब परिवार के साथ चाय नाश्ता व खाना खाकर वह पहली मंजिल में पढ़ने चला गया। 

शुक्रवार को भी द्वितीय पेपर की परीक्षा थी, इसलिए हमलोग ने उसे तंग करना मुनासिब न समझा। सुबह उनकी पत्नी ऊपर के मंजिल में झाड़ू लगाने गई तो देखा कि बेटे का कमरा बंद है। कई बार आवाज देने पर भी नहीं खोला। वे पास स्थित खिड़की से नजर डाली तो उसके होश उड़ गये और वह जोर से चिल्लाई। इसके बाद घटना की सूचना पुलिस को दी गयी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को नीचे उतार कर पोस्टमार्टम के लिए दानापुर अनुमंडल अस्पताल भेजा। वहीं दानापुर थानेदार कामेश्वर प्रसाद ने कहा कि घटनास्थल से किसी प्रकार का सुसाइड नोट नहीं मिला है। मामले की जांच चल रही है।


Find Us on Facebook

Trending News