पश्चिम चम्पारण के बेतिया निवासी ऋत्विक ऋषभ को मिला बेस्ट फिल्म निर्देशक का अवार्ड

पश्चिम चम्पारण के बेतिया निवासी ऋत्विक ऋषभ को मिला बेस्ट फिल्म निर्देशक का अवार्ड

BETTIAH : पश्चिम चम्पारण के कई लोग जिला और प्रदेश ही नहीं देश विदेश में अपना परचम लहरा चुके हैं. ऐसे ही लोगों से जिला और बिहार हमेशा अपनी नाम ऊपर करते हुए एक बिहारी सब पर भारी का दम्भ भरता है. आज बिहार के समस्त जिलों के साथ साथ पश्चिम चम्पारण जिला के कई चर्चित चेहरे सभी क्षेत्रों के साथ साथ फिल्म जगत में अपना हुनर का जलवा बिखेर रहे हैं. बतौर अभिनेता मनोज वाजपेयी, हेलन जैसे चर्चित कलाकार चम्पारण की देन है. फिल्म निर्देशन के क्षेत्र में प्रकाश झा ने भी अपना लोहा बालीवुड में एक से बढ़कर एक फिल्म देकर मनवा लिया. इसी बीच में जिला के बेतिया शहर का नौजवान ऋत्विक ऋषभ ने भी अपनी लेखन और निर्देशक/प्रोड्यूसर के रूप में एक बार पुनः जिले को गौरवान्वित करने का मौका दिया है. 

बचपन से ही ऋत्विक को फिल्म देखने और कहानियाँ सुनने की आदत आज उन्हें इस कदर ऊंचाइयों तक ले जाएगी. इसका वे स्वयं भी कभी कल्पना नहीं कर पाएं होंगे. लेकिन मनुष्य जो ठान लें वो अवश्य कर दिखाता है. ऐसा ही जोश उनके अन्दर था. उनपर अपनी लिखी कहानी लोगों तक पहुंचाने का जुनून इस कदर हावी रहा की इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी कर मुम्बई पहुंच गए. लेकिन कोई जॉब ना कर अपने जुनून को सह निर्देशक और निर्देशक के रूप में बालीवुड में रम गए. 

जुनून ने सफलता दिलाने की कमर कस रखी थी. उनके प्रोडक्शन हाऊस विशनरी फ्रेम्स के बैनर तले फिल्म "GO-HU" का सफल निर्देशन करने के लिए इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल दाऊदनगर 2020 में "बेस्ट फिल्म स्क्रीनिंग कैटेगरी" का अवार्ड मिला. जिसके संयोजक डॉक्टर धर्मवीर भारती हैं. 

फिल्म का भाव अत्यंत साधारण है. आधुनिक जीवन के भाग दौड़ में लोग खुश रहना और जीवन जीना भूलते जा रहे हैं. वो परिणामों की कल्पना से कल्पित होकर अपनी शक्तियों को भूल मेहनत ही कम करने जाते हैं.  इसे आधार बनाते हुए ईश्वर और हनुमान जी के संवाद बनाते हुए पूरी तन्मयता से दर्शकों तक अपनी बात पहुंचाने की भरपूर प्रयास किया है. 

ईश्वर की भूमिका अनिल दूबे ने किया है जो कि स्वयं टेलिविजन और फिल्म जगत के बहुत बड़े निर्देशक है. इनके निर्देशन में चिड़ियाघर, बीच वाले बापू और लापतागंज जैसे सीरियल टेलीविजन पर शोहरत हासिल की है. वहीं हनुमान जी की भूमिका फैज खान ने अदा की है. वे नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा से पास होकर निकलने वाले बेहतरीन कलाकार है. सभी कलाकारों ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए फिल्म को अवार्ड के लिए चयनित करने का अदम्य कार्य किया है. 

अवार्ड के लिए चयनित होने के पश्चात ऋत्विक ऋषभ को यह सम्मान सभी हस्तियों के सामने अभिनेता अखिलेन्द्र मिश्रा   के द्वारा दिया गया. अखिलेन्द्र मिश्रा ने फिल्म लगान, गंगाजल, शूट आउट ऐट लोखंडवाला, सरफरोश जैसे फिल्मों में अपना जलवा कायम किया है. साथ ही साथ चंद्रकांता और रामायण जैसे टेलिविजन धारावाहिक में भी सफल अदाकारी का जलवा बिखेर कर दर्शकों को अपनी ओर आकर्षित किया है. इन सबसे अलग एक और खास बात यह है कि वे भी बिहार राज्य के सीवान जिले के रहने वाले हैं. फिल्म के सिनेमेटोग्राफर संजय साहु, संपादकीय संदीप नायडू, क्रिएटिव कनू प्रिया और अनिल दूबे एवं एक्सक्यूटिभ प्रोड्यूसर ऋषि पाठक ने अपना सराहनीय योगदान दिया है. जिससे फिल्म अवार्ड के लिए चयनित हुई. 

बेतिया से आशीष की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News