तेजस्वी को सीएम बनाने के लिए नीतीश को अनोखे तरीके से घेर रहा राजद, भाजपा ने किया राजफाश

तेजस्वी को सीएम बनाने के लिए नीतीश को अनोखे तरीके से घेर रहा राजद, भाजपा ने किया राजफाश

पटना. तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाने के लिए राजद मारो मारो, छोड़ो छोड़ो की रणनीति बनाकर काम कर रही है. यह कहना है भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता डॉ रामसागर सिंह का. उन्होंने शनिवार को कहा कि राजद परिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर विश्वास नहीं है. इसलिए पर्दे के पीछे से राजद इस रणनीति पर काम कर रही है कि कैसे सुपर सीएम तेजस्वी यादव को सीएम बनाने के समझौते को लागू किया जाए. इसी का उदाहरण है कि एक ओर जहां राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ‘मारो मारो’ रणनीति को आगे बढ़ा रहे हे तो दूसरी तरफ तेजस्वी यादव छोड़ो छोड़ो रणनीति पर चल रहे हैं. 

उन्होंने कहा कि अपनी बातों से पलटने के लिए कुख्यात हो चुके सीएम नीतीश कुमार पर अब कोई भरोसा करने के लिए तैयार नही है. पहले भी नीतीश कुमा बीजेपी ,राजद ,वामपंथी दलो सहित जीतन राम मांझी और रामविलास पासवान को धोखा दे चुके हैं. इसलिए अब राजद भले अपना समर्थन देकर नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री बनाए हुए है लेकिन नीतीश पर राजद को भरोसा नहीं है. यही कारण है कि राजद के शीर्ष नेताओं ने सार्वजनिक रूप से तेजस्वी को मुख्यमंत्री बनाए जाने की मांग बार बार दोहराई है. 

दरअसल, जगदानंद सिंह ने कहा था कि वर्ष 2023 में तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाया जाएगा. वहीं सीएम नीतीश कुमार अब देश की राष्ट्रीय राजनीति में सक्रिय होंगे. उनके अलावा राजद नेता भाई वीरेंद्र ने भी इस मुद्दे पर कहा था कि तेजस्वी यादव में मुख्यमंत्री बनने के सारे गुण मौजूद हैं. हालांकि शुक्रवार शाम तेजस्वी ने इन अटकलों पर विराम लगा दिया. उन्होंने कहा, ऐसी कोई बात नहीं है. हमारी कोई लालसा नहीं है कुछ बनने की. हमारा एकमात्र लक्ष्य था कि भाजपा और आरएसएस को गद्दी से कैसे हटाने का काम करें. बिहार से हमने उन्हें हटाया और अब केंद्र से हटाना है. तेजस्वी यादव ने कहा कि वह (सीएम नीतीश कुमार) सीएम हैं और हम उनके मार्गदर्शन में काम कर रहे हैं. अभी उनके पास एकमात्र एजेंडा सभी विपक्षों को एक साथ लाना है. उनकी पीएम बनने की कोई इच्छा नहीं है.


वहीं जदयू नेताओं ने इस मुद्दे पर चुप्पी साध ली. जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने जहां प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा से बात करने कहा. वहीं कुशवाहा ने कहा कि हर बात का जवाब देना उचित नहीं होता. जदयू के वरिष्ठ नेता अशोक चौधरी ने कहा कि कुछ लोग बेमतलब की बातें करते रहते हैं. हर बात पर प्रतिक्रिया नहीं दी जाती. 


Find Us on Facebook

Trending News