RJD की मीटिंग में दिल मे दर्द दबाए रहे नेता,खुलकर बोलने से बचते रहे,सिद्दिकी बोले-कमियों की समीक्षा हो

RJD की मीटिंग में दिल मे दर्द दबाए रहे नेता,खुलकर बोलने से बचते रहे,सिद्दिकी बोले-कमियों की समीक्षा हो

PATNA : बिहार विधानसभा चुनाव समाप्त होने के बाद राजद ने आज समीक्षा बैठक बुलाई है। पार्टी के प्रदेश कार्यालय में आयोजित समीक्षा बैठक में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव समेत सभी जीते और हारे हुए कैंडिडेट के अलावे सभी जिला के जिला अध्यक्ष, महासचिव शिरकत किया। इस मौके पर सभी बड़े नेताओं ने अपने विचार रखे।हालांकि सुझाव को लिखित रूप में देने से नेता खुल कर नही बोल सके। वहीं राष्ट्रीय महासचिव अब्दुल बारी सिद्दकी ने मीटिंग में कहा कि किसान आंदोलन में जो सक्रियता दिखानी चाहिये थी वो नहीं दिखा रहे।उन्होंने कहा कि हम अपनी कमियों पर चर्चा नहीं करते।

उदय नारायण चौधरी का दिखा दर्द

राजद की मीटिंग में बोलते हुए उदय नारायण चौधरी ने कहा की संग़ठन में हमे और चौकाना रहना चाहिए था। जो भी पदाधिकारी हैं वे बताएं की वह अपने जिला के लिए क्या क्या किया.... आपने अपनी पार्टी उम्मीदवारों के लिए क्या क्या काम किया यह पूछा जाए,उन्होंने कहा कि हम विस्तार से इस मुद्दे पर चर्चा नही करेंगे। हमे लिख के देने के लिए कहा गया है।

भाई वीरेंद्र की सलाह

समीक्षा बैठक में बोलते हुए विधायक भाई वीरेंद्र ने कहा कि किसान आंदोलन को बिहार में तेज करने की जरूरत है। राजद महागठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी है। वह अपने दम पर किसान आंदोलन को मजबूती से आगे बढ़ा सकती है। इसके लिए पार्टी वृहद स्तर पर कार्यक्रम तैयार करें और किसान आंदोलन तेज करें। भाई बिरेंद्र ने कहा कि सिर्फ धरना प्रदर्शन से नहीं बल्कि कार्य योजना तैयार हो, क्योंकि हमारे पास पार्टी कार्यकर्ता है,हम लड़ाई लड़ने में सक्षम हैं। इस पर काम करने की जरूरत है।


 वही राजद के प्रदेश महासचिव आलोक मेहता ने कहा कि आज की बैठक में सभी जिलाध्यक्ष या जीते या हारे हुए कैंडिडेट  शिकायत और सुझाव लिखित रूप में दें ।उसके बाद उसकी समीक्षा होगी प्रमंडल बार इसकी समीक्षा की जाएगी ।नेता प्रतिपक्ष यादव के नेतृत्व में मामलों पर चर्चा होगी और फिर आगे का निर्णय लिया जाएगा।

Find Us on Facebook

Trending News