राजद सदस्यता अभियान की सूची जारी, लक्ष्य से करीब 6 लाख अधिक बने नये सदस्य

राजद सदस्यता अभियान की सूची जारी, लक्ष्य से करीब 6 लाख अधिक बने नये सदस्य

पटना. राजद सदस्यता अभियान की सूची प्रकाशित कर दी गयी है। इसमें लक्ष्य से करीब 6 लाख अधिक लोगों को राजद से जोड़ा गया है। राजद ने एक करोड़ सदस्य बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया था। इस अभियान की शुरुआत इस साल फरवरी में शुरू हुई थी। इसके तहत 1,05,97,009 नये सदस्य बनाये गये हैं।

राजद के राष्ट्रीय मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी उदय नारायण चौधरी के अनुमोदन के पश्चात सांगठनिक वर्ष 2022-2025 के लिए राजद सदस्यों की सूची का प्रकाशन कर दिया गया है। प्रकाशित सूची के‌ अनुसार नवीनीकृत और पहली बार बनाये गये सदस्यों को मिलाकर सांगठनिक वर्ष 2022-2025 के लिए कुल 1,05,97,009 सदस्य बनाए गए हैं, जो निर्धारित लक्ष्य एक करोड़ से लगभग 6 लाख अधिक है।

इसको लेकर पार्टी के सहायक राष्ट्रीय मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी चित्तरंजन गगन ने बताया कि 12 फरवरी 2022 को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद द्वारा सदस्यता अभियान की शुरुआत की गई थी। सदस्यों की भर्ती की अन्तिम तिथि 30 जून  2022 निर्धारित की गयी थी। जिसे बढ़ाकर 15 जुलाई 2022 कर दी गयी थी। पार्टी नेतृत्व द्वारा कम से कम एक करोड़ सदस्य बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। उप मुख्यमंत्री‌ तेजस्वी यादव और प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के सतत् प्रयास का‌ परिणाम है कि सदस्यों की संख्या लक्ष्य से भी ज्यादा पहुंच गया है। बिहार में नवीनीकृत और नये बनाये गये सदस्यों की कुल संख्या 98,64,203 है, जबकि झारखंड सहित अन्य दूसरे प्रदेशों में नवीनीकृत और नये बनाये गये सदस्यों की कुल संख्या 7,32,806 है।

गगन ने बताया कि सदस्यों की सूची प्रकाशन के साथ ही सांगठनिक चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। सभी जिला निर्वाचन पदाधिकारियों और‌ सहायक जिला निर्वाचन पदाधिकारियों को मातहत इकाइयों में चुनाव पदाधिकारी मनोनीत कर राष्ट्रीय कार्यकारिणी द्वारा निर्धारित कार्यक्रमों के अनुसार संवैधानिक और पारदर्शी तरीके से चुनाव सम्पन्न कराने की जिम्मेदारी दी गई है।

गगन ने बताया कि 16 अगस्त के पूर्व बिहार के सभी 534 प्रखंडों, 3320 वार्डों और 8463 पंचायतों में चुनाव पदाधिकारी मनोनीत कर दिये जाएंगे और 16 अगस्त से 12 सितंबर के बीच प्रारम्भिक इकाई (बुथ कमेटी), पंचायत इकाई, प्रखंड इकाई और जिला इकाई का चुनाव सम्पन्न हो जाएगा। सभी राज्यों में 14 सितंबर से प्रदेश इकाई के चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी और 21 सितंबर को सभी प्रदेशों में प्रदेश अध्यक्ष, प्रदेश कार्यकारिणी और राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों का चुनाव होगा।

गगन ने बताया कि इस बार सदस्यता अभियान की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि राजद की सदस्यता ग्रहण करने वालों में नौजवानों की संख्या सबसे अधिक है और हर वर्ग और समुदाय के लोगों ने राजद की सदस्यता ली है।


Find Us on Facebook

Trending News